Home न्यूज कुढ़नी के लिटमस टेस्ट में फेल हुई नीतीश सेना, भाजपा के केदार...

कुढ़नी के लिटमस टेस्ट में फेल हुई नीतीश सेना, भाजपा के केदार गुप्ता ने दिया करारा झटका

Neelkanth

बिहार डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
कुढ़नी के रण में नीतीश कुमार व तेजस्वी समेत अन्य पाटियां मिलकर भी भाजपा के विजय रथ को नहीं रोक सके। पहले गोपालगंज व अब कुढ़नी में भी भाजपा ने जोरदार जीत दर्ज कर रूलिंग पार्टी को करारा झटका दिया है। बीजेपी प्रत्याशी के हाथों जेडीयू कैंडिडेट की करारी हार हो गई। भाजपा प्रत्याशी केदार गुप्ता ने बड़ा ही दिलचस्प मुकाबले में जेडीयू प्रत्याशी मनोज कुशवाहा को 3649 मतों से हराया. 2020 विस चुनाव में कुढ़नी सीट पर राजद प्रत्याशी अनिल सहनी की जीत हुई थी. भाजपा के कैंडिडेट केदार गुप्ता 712 मतों से हार गए थे. अनिल सहनी की सदस्यता खत्म होने के बाद हुए उप चुनाव में बीजेपी ने कुढ़नी के रण में चाचा-भतीजा की जोड़ी को परास्त कर दिया।

कुढ़नी में केदार गुप्ता की जीत से भाजपा जश्म मना रही है। भाजपा के नेता सीएम नीतीश के इस्तीफे की मांग रहे हैं. दरअसल, कुढ़नी में एक तरफ बीजेपी थी तो दूसरी तरफ जेडीयू-राजद समेत सात दलों का गठबंधन था। चिराग पासवान ने अंत समय में बीजेपी प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार जरूर किया। हालांकि वीआईपी के मुकेश सहनी ने भूमिहार समाज से आने वाले निलाभ कुमार को चुनावी मैदान में उतार कर भाजपा को झटका देने की कोशिश की। हालांकि बीजेपी प्रत्याशी ने निकटतम लड़ाई में जेडीयू प्रत्याशी मनोज कुशवाहा को हरा दिया।

जानें किस प्रत्याशी को कितने वोट मिले

बीजेपी कैंडिडेट केदार प्रसाद गुप्ता को 76722 मत मिले। जेडीयू के मनोज कुमार सिंह को 73073 वोट. राष्ट्रीय जन संभावना पार्टी के उपेंद्र साहनी को 1090, काली कांत झा को 1245, नीलाभ कुमार को 10000, एआई एम आई एम के मोहम्मद गुलाम मुर्तजा को 3206, आदर्श मिथिला पार्टी के संजय ठाकुर को 373, सुखदेव प्रसाद को 886, निर्दलीय आलोक कुमार सिंह को 410, दिनेश कुमार राय को 764, विनोद कुमार राय को 833, शेखर साहनी को 3716 ,संजय कुमार को 4250 और नोटा को 4448 मत मिले.

 

Previous articleबाली उमर में लड़कियों का चक्कर, खतरनाक अंजामः प्रेमिका के घर फंदे से लटका मिला किशोर का शव
Next articleसड़क हादसे में महिला की मौत, पुत्र की हालत चिंताजनक, इस जगह हुआ हादसा