Home न्यूज मोतिहारी पुलिस संग हुई बदमाशों की मुठभेड़, चार शातिर जख्मी हालत में...

मोतिहारी पुलिस संग हुई बदमाशों की मुठभेड़, चार शातिर जख्मी हालत में गिरफ्तार

Neelkanth

मोतिहारी। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
मोतिहारी पुलिस अपराधी के बीच हुई मुठभेड़ की खबर है। घटना में जख्मी हालत में गिरफ्तार चारों अपराधी शातिर अपराधी निकले, ये किसी बड़ी घटना को अंजाम देने पहुचे थे। चारों अपराधी चकिया से गिरफ्तार हुए है। अपराधी के पास से पुलिस ने दो पिस्टल,दो देसी पिस्तौल, 10 कारतूस और एक मैगजीन बरामद की है। गिरफ्तार चारों अपराधी पर जिला सहित अन्य जिलों में कई संगीन आपराधिक कांड दर्ज है। विदित हो कि आईसीआईसीआई बैंक हुए 40 लाख रुपए के लूट में शामिल अपराधियों की किसी दूसरी घटना को अंजाम देने के लिए क्षेत्र में आने की सूचना पर चकिया पुलिस नाकेबंदी कर चौकस थी। अपराधी जैसे ही पुलिस की गाड़ी देखते ही अंधाधुंध फायरिंग करने लगे।

पुलिस सूत्रों की मानें तो अपराधियों द्वारा डेढ़ दर्जन राउंड पुलिस पर गोलियां बरसायी गयी। वहीं पुलिस ने आत्मरक्षा में 10 राउंड गोली चलाई गई। जिसमें चारों अपराधी जख्मी हो गए। जबकि तीन पुलिस कर्मी आंसिक रूप से घायल हुए है। सभी घायल अपराधियों का सदर अस्पताल में इलाज चल रहा है। अपराधी और पुलिस के बीच मुठभेड़ चकिया थाना के चकिया मधुबन पथ के बारा घाट पुल के पास सोमवार के देर रात की बतायी जा रही है।घटना के संबंध में बताया जा रहा है कि एसपी को सूचना मिली की चकिया आईसीआईसीआई बैंक लूट कांड में शामिल कुछ अपराधी चकिया के बारा घाट के तरफ आने वाला है। सूचना मिलने के बाद चकिया एसडीपीओ और थानाध्यक्ष को उस क्षेत्र में छापेमारी के लिए भेजा गया, जहां बाइक और टेंपू से जा रहे अपराधियों ने पुलिस को आता देख पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दिया। पुलिस भी जवाब में इधर से फायरिंग शुरू किया। जिसमें चार अपराधियों को गोली लगी है। वहीं दो अंधेरे का फायदा उठा कर भागने में सफल रहे। गिरफ्तार अपराधियों के पास से हथियार भी बरामद हुआ है। वही सभी घायल को चकिया अनुमंडलीय अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहा प्रथम उपचार के बाद सभी को सदर अस्पताल में भर्ती कर दिए गया। जहां सभी का इलाज चल रहा है।

घटना की सूचना पर पहुंचे एसपी
बता दें कि, जैसे ही एसपी कांतेश मिश्रा को सूचना मिला की चकिया में अपराधी और पुलिस के बीच मुठभेड़ हुआ है। वैसे ही खुद चकिया पहुंच कर पुलिस कर्मी से मिल उनका हाल जाना। वहीं पुलिस कर्मियों का हौसला अफजाई किया गया। घटना स्थल पर पहुचकर बारीकी से जांच किया गया। पुलिस अपराधी के बीच मुठभेड़ में चार अपराधियों को गोली लगने को सूचना मिलने के बाद खुद चंपारण रेंज के डीआईजी जयंत कांत सदर अस्पताल पहुंच कर अपराधियों से पूछताछ किया। वहीं सभी के अपराधिक इतिहास के बारे में जानकारी लिया।

 

सभी का है अपराधिक इतिहास

मुठभेड़ में घायल चारों का अपराधिक इतिहास रहा है। दो मोतिहारी और एक वैशाली और एक मुजफ्फरपुर जिला का रहने वाला है। जिसमें हरसिद्धि थाना क्षेत्र के भादा गांव के मनोज मिश्र का पुत्र नितेश मिश्रा, छोड़ादानो थाना क्षेत्र के कृष्णा तिवारी का पुत्र राजन तिवारी है। वैशाली का जनार्दन झा का पुत्र सन्नी झा और मुजफ्फरपुर जिला के बरूराज का गुलामुदीन का पुत्र तौकीर शामिल है।

एक वर्ष में पुलिस अपराधी मुठभेड़ की दूसरी घटना

मोतिहारी में अपराधियों का मनोबल सातवें आसमान पर है। चकिया थाना पुलिस पर एक वर्ष में दूसरी बार अपराधियो ने गोलियों की बरसात किया है। 6 अप्रैल 2022 को भी चकिया पुलिस पर अपराधियों ने गोली चलाई थी। जिसमें बाल बाल बचते हुए चकिया पुलिस ने आत्मरक्षा में अपराधियों पर गोली चलाकर किया था। एक अपराधी हुए थे गिरफ्तार।किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के लिए अपराधियो के पहुचने की सूचना पर पुलिस के पहुचने पर अपराधियो ने पुलिस पर चलाई थी गोली ।सोमवार रात भी अपराधियो ने पुलिस पर चलाई गोली ।जिसमे तीन पुलिस कर्मी आंशिक रूप से हुए जख्मी ।

 

Previous articleदिल्ली में मुस्लिम युवक ने किया दुष्कर्म, जबरन धर्म परिवर्तन कराने की कोशिश का आरोप
Next articleढाका में फाइनेंस कम्पनी के ऑफिस में हुए लूटकांड का सीसीटीवी फुटेज आया सामने