Home न्यूज पीएम मोदी ने चुनावी सभाओं को किया संबोधित, कहा- आपका वोट बेकार...

पीएम मोदी ने चुनावी सभाओं को किया संबोधित, कहा- आपका वोट बेकार नहीं जाना चाहिए, जिसकी सरकार बने उसे ही वोट करें

बिहार डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार के काराकाट में रविवार को एनडीए प्रत्याशी उपेंद्र कुशवाहा के समर्थन में चुनावी जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने लोगों से कहा कि इस चुनाव में उनका वोट बेकार नहीं जाना चाहिए। इसलिए जिसकी सरकार बनने वाली है, उसे ही वोट करिए। पीएम मोदी के इस बयान के अब कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं। दरअसल, काराकाट में बीजेपी के बागी भोजपुरी स्टार पवन सिंह भी निर्दलीय चुनावी मैदान में हैं। इससे एनडीए को वोटबैंक में सेंधमारी का डर है। अब पीएम मोदी ने खुद लोगों से अपने वोट को बेकार नहीं करने की अपील की है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को काराकाट लोकसभा क्षेत्र के तहत रोहतास जिले के डेहरी में एनडीए की चुनावी रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि यह सांसद बनाने का नहीं, बल्कि पीएम बनाने का चुनाव है। पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने गरीब लोगों को गैस सिलेंडर देने की गारंटी पूरी की। इस बार मुझे गैस सिलेंडर पर वोट भी चाहिए। बता दें कि काराकाट से एनडीए प्रत्याशी उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी आरएलएम का चुनाव चिह्न गैस सिलेंडर है। कुशवाहा को दिया हुआ वोट मोदी को मिलेगा।

नाबालिग के दादा और पिता ने ड्राइवर को धमकाया
अमितेश कुमार ने आगे कहा कि जब ड्राइवर यरवदा पुलिस स्टेशन जा रहा था तो नाबालिग के पिता और दादा ने उसे अपनी कार में बिठाया। इसके बाद दोनों ने ड्राइवर का फोन जब्त कर उसे अपने बंगले में कैद कर लिया। नाबालिग के दादा सुरेंद्र अग्रवाल और पिता विशाल अग्रवाल ने ड्राइवर को धमकाया कि उनके निर्देशों के हिसाब से बयान दे। इसके बाद ड्राइवर को तोहफे और नकदी की पेशकश की गई। इस दौरान उसे धमकी दी गई कि सारे आरोपों को अपने सिर पर ले। पुलिस के अनुसार ड्राइवर की पत्नी अगले दिन सुरेंद्र अग्रवाल और विशाल अग्रवाल के बंगले पर पहुंची और अपने पति को मुक्त कराया।
विज्ञापन

सुरेंद्र अग्रवाल पर इन धाराओं के तहत मामला दर्ज
विशाल अग्रवाल और सुरेंद्र अग्रवाल पर आईपीसी की धारा 365 (किसी व्यक्ति कैद करने के इरादे से अपहरण करना) और 368 (गलत तरीके से कैद में रखना) के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुणे पुलिस ने इस मामले में लापरवाही बरतने के लिए के लिए यरवदा पुलिस स्टेशन के एक निरीक्षक सहित दो पुलिसकर्मियों को निलंबित किया है। उधर, नाबालिग को 5 जून तक एक संप्रेक्षण गृह में रखा गया है।

क्या है पूरा मामला?
पुणे शहर में 18-19 मई की दरम्यानी रात को करीब तीन करोड़ रुपये की पोर्श कार को तेज गति से दौड़ाने के चक्कर में 17 साल के लड़के ने एक बाइक को टक्कर मार दी थी। गाड़ी की टक्कर इतनी जोरदार थी कि बाइक अपना संतुलन खोकर काफी दूर तक सड़क पर घिसटते चली गई, जिससे उस पर सवार दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। मौके पर मौजूद लोगों ने हादसे की सूचना पुलिस को दी, जिसके बाद आरोपी नाबालिग को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस घटना के 14 घंटे बाद आरोपी नाबालिग को कोर्ट से कुछ शर्तों के साथ जमानत मिल गई थी। कोर्ट ने उसे 15 दिनों तक ट्रैफिक पुलिस के साथ काम करने और सड़क दुर्घटनाओं के प्रभाव-समाधान पर 300 शब्दों का निबंध लिखने का निर्देश दिया था। बाद में विवाद बढ़ा तो कोर्ट ने उसकी जमानत रद्द कर दी। हालांकि, पुलिस जांच में सामने आया कि आरोपी शराब के नशे में था और बेहद तेज गति से कार को चला रहा था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार के काराकाट में रविवार को एनडीए प्रत्याशी उपेंद्र कुशवाहा के समर्थन में चुनावी जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने लोगों से कहा कि इस चुनाव में उनका वोट बेकार नहीं जाना चाहिए। इसलिए जिसकी सरकार बनने वाली है, उसे ही वोट करिए। पीएम मोदी के इस बयान के अब कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं। दरअसल, काराकाट में बीजेपी के बागी भोजपुरी स्टार पवन सिंह भी निर्दलीय चुनावी मैदान में हैं। इससे एनडीए को वोटबैंक में सेंधमारी का डर है। अब पीएम मोदी ने खुद लोगों से अपने वोट को बेकार नहीं करने की अपील की है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को काराकाट लोकसभा क्षेत्र के तहत रोहतास जिले के डेहरी में एनडीए की चुनावी रैली को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि यह सांसद बनाने का नहीं, बल्कि पीएम बनाने का चुनाव है। पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने गरीब लोगों को गैस सिलेंडर देने की गारंटी पूरी की। इस बार मुझे गैस सिलेंडर पर वोट भी चाहिए। बता दें कि काराकाट से एनडीए प्रत्याशी उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी आरएलएम का चुनाव चिह्न गैस सिलेंडर है। कुशवाहा को दिया हुआ वोट मोदी को मिलेगा।

Previous articleईरान ने बताया- नहीं मिला किसी तरह के हमले का संकेत, राष्ट्रपति रईसी की मौत को लेकर कही यह बात
Next articleब्रेकिंगः मोतिहारी में बोलेरो चालक का शव मिला, हत्या की आशंका