Home न्यूज विश्व के महान भौतिकवादी दार्शनिक व सर्वहारा शिक्षक कार्ल मार्क्स की जयंती...

विश्व के महान भौतिकवादी दार्शनिक व सर्वहारा शिक्षक कार्ल मार्क्स की जयंती पर ऐक्टू जिला कमिटी की बैठक .

Neelkanth

मोतिहारी। अशोक वर्मा
कार्ल मार्क्स की 206 वी जयंती के अवसर पर मोतिहारी पंचवटी होटल में ऐक्टू जिला कमिटी की बैठक चंद्रशेखर सिंह की अध्यक्षता में संपन्न हुई। बैठक की शुरुआत विश्व के महान सर्वहारा शिक्षक और भौतिकवादी दार्शनिक कार्ल मार्क्स की तस्वीर पर माल्यार्पण से हुई।
बैठक को संबोधित करते हुए ऐक्टू के जिला सचिव विष्णुदेव प्रसाद यादव ने कहा कि सामाजिक बदलाव और बराबरी के संघर्ष में मार्क्स के महान विचार हमारे जरूरी हथियार बने रहेंगे। आज पूंजीवादी शासक जिस तरह से पूरी दुनिया में मानवता के लिए संकट पैदा कर रहे और मेहनतकश वर्ग की जिंदगी को तबाह और बर्बाद कर रहे हैं, उससे छुटकारा पाने का रास्ता मार्क्सवाद ही है। मोदी सरकार लोगों की आजादी को खत्म कर फासीवादी शासन थोपना चाहती है इसलिए लोकतंत्र एवं न्याय व्यवस्था को बचाने की लड़ाई आज मजदूर वर्ग का जरूरी कार्यभार बन गया है।
ऐक्टू के राज्य महासचिव आरएन ठाकुर ने अपने संबोधन में कहा कि आजादी के बाद से अबतक मोदी सरकार का 9वर्षों का शासनकाल सबसे विनाशकारी शासन साबित हुआ है। मजदूरों ने काफी संघर्ष की बदौलत जो अधिकार हासिल किए थे, उसे इसने लॉकडाउन के दौरान ही 4लेबर कोड के माध्यम से खत्म कर दिया है। चरम महंगाई और बेरोजगारी के चलते गरीबों व मजदूरों का जीना मुहाल हो गया। मजदूरों की आमदनी लगातार घट रही है और उनके दोस्त अंबानी – अडानी जैसे पूंजीपतियों की संपत्ति दिन दूनी रात चौगुनी की रफ्तार से बढ़ रही है। उन लोगों को गलत तरीके से सरकार हरेक तरह की मदद दे रही है। सारी सरकारी और सार्वजनिक संसाधनों और संपतियों को उनके हवाले करते जा रही है। जिसका खुलासा हिंडनबर्ग की रिपोर्ट से हुआ है।
अब जब देश के सामने मोदी सरकार का भांडा फुट रहा है तब वह लोकतंत्र का गला घोंट कर जनता की आवाज को दबाना चाहती है। तमाम सरकारी संस्थाओं,केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग विपक्ष के नेताओं के खिलाफ कर रही है। भाजपा – आरएसएस हिंदू मुस्लिम के बीच नफरत का जहर घोलकर उन्माद उत्पात फैला रही है। आज देश की आजादी,लोकतंत्र और संविधान खतरे में है। इसके खिलाफ ऐक्टू मजदूर वर्ग को गोलबंद करने के लिए मई -जून महीने में बड़ा अभियान चलाएगा और सदस्यता भर्ती करेगा।
9अगस्त को राष्ट्रव्यापी आह्वान पर पटना में महापड़ाव आयोजित करेगा, जिसमे सभी ट्रेड यूनियन संगठन शामिल होंगे।
बैठक में ऐक्टू जिला कमिटी सदस्य राजेश कुमार,दिनेश कुशवाहा,विशेश्वर कुशवाहा,भाग्यनारायणं चौधरी,राकेश मुखिया,शबनम खतुनरंजन कुमार,संजय कुमार और भाकपा माले के वरिष्ठ नेता कॉमरेड भैरव दयाल सिंह आदि ने भाग लिया।

Previous articleप्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय से जुड़कर 25 वर्षों से सेवा देने वाले लोगों को किया गया सम्मानित
Next articleब्रेकिंगः मोतिहारी के चिरैया में सड़क हादसे में आठ वर्षीय बालक की मौत