Home न्यूज एसएसबी की एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग टीम व प्रयास जुवेनाइल ने झारखंड के...

एसएसबी की एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग टीम व प्रयास जुवेनाइल ने झारखंड के सात नाबालिग बच्चों को कराया मुक्त

Neelkanth

रक्सौल। अशोक वर्मा
एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग टीम (एसएसबी) रक्सौल, प्रयास जुवेनाइल एड सेंटर पूर्वी चंपारण तथा 47वीं एसएसबी रक्सौल द्वारा मानव तस्कर के चंगुल से झारखंड के सात नाबालिग बच्चों को मुक्त कराया गया।
काउंसलिंग के दौरान पता चला कि सारे बच्चे झारखंड के रहने वाले है जिन्हें मुर्गी फर्म मे काम कराने के लिए नेपाल ले जाया जा रहा था ।
एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग टीम क्षेत्रक मुख्यालय के इंस्पेक्टर मनोज कुमार शर्मा ने बताया कि इसकी सूचना राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग नई दिल्ली तथा मिशन मुक्ति फाउंडेशन दिल्ली के द्वारा मिली थी।
जिसमें बताया गया था बंगाल के मानव तस्कर झारखंड से कुछ नाबालिक बच्चों को नेपाल ले जाने की कोशिश कर सकते हैं।
अतरू एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग टीम क्षेत्रक मुख्यालय (ए.एच.टी.यू) ने प्रयास जुवेनाइल एड सेंटर पूर्वी चम्पारण को साथ ले कर मानव तस्करी, ट्रैफ़िकिंग बाल मजदूरी रोक थाम हेतु अभियान चलाया गया जिसमें 07 नाबालिक बच्चे तथा 1 व्यक्ति को संपर्क मे लिया गया तथा
बहुत जल्द ही झारखंड के सात नाबालिग बच्चों व बंगाल के मानव तस्कर को सम्पर्क में लिया गया और त्वरित कार्रवाई करते हुए हरैया ओपी थाना रक्सौल में मानव तस्कर पर प्राथमिक दर्ज कराई गई।
हरैया थाना द्वारा मानव तस्कर व नाबालिग लड़को को अभिरक्षा में लेते हुए आगे की कारवाई हरैया पुलिस ओपी के प्रभारी पंकज कुमार द्वारा की जा रही है। प्रभारी पंकज कुमार द्वारा सराहनीय सहयोग रहा ।
इस अभियान में एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग टीम क्षेत्रक मुख्यालय (एसएसबी) से इंस्पेक्टर मनोज कुमार शर्मा, सहायक उपनिरीक्षक अनिल कुमार शर्मा, हवलदार अरविंद द्विवेदी, कांस्टेबल मिकी कुमारी, कांस्टेबल डोली कुमारी, कांस्टेबल इकबाल अहमद (एफ समवाय 47वीं वाहिनी)
प्रयास जुवेनाइल एड सेंटर पूर्वी चंपारण की परामर्शदाता आरती कुमारी, समाजिक कार्यकर्ता राज गुप्ता आदि मौजूद थे।

Previous articleशराब तस्करों का बढ़ा मनोबल, पुलिस मुखिबिरी के शक में एसपीओ को मारी गोली, हालत नाजुक
Next articleनीतीश कैबिनेट की बैठक में 11 एजेंडों पर लगी मुहर, पीटीसी प्रशिक्षण उत्तीर्ण सिपाही को मिला यह अधिकार