Home न्यूज पीएमइजीपी के तहत 115 आवेदकों को दी गई लोन की सुविधा, डीएम...

पीएमइजीपी के तहत 115 आवेदकों को दी गई लोन की सुविधा, डीएम ने की विभिन्न योजनाओं की समीक्षा

Neelkanth

बेतिया। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
जिलाधिकारी, कुंदन कुमार द्वारा समाहरणालय सभाकक्ष में उद्योग विभाग की विभिन्न योजनाओं की विस्तृत समीक्षा की गयी। इस अवसर पर उप विकास आयुक्त, श्री अनिल कुमार, अपर समाहर्ता, श्री राजीव कुमार सिंह, श्री अनिल राय, महाप्रबंधक, जिला उद्योग केन्द्र, श्री अनिल कुमार सिंह सहित विभिन्न बैंकर्स आदि उपस्थित रहे।

महाप्रबंधक, जिला उद्योग केन्द्र द्वारा बताया गया कि प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम (पीएमइजीपी) अंतर्गत जिले में 251 आवेदन स्वीकृत हुए हैं। स्वीकृत आवेदनों में से 115 लाभुकों के बीच ऋण का वितरण करा दिया गया है।
जिलाधिकारी द्वारा ऋण वितरण पर असंतोष व्यक्त की गयी तथा बैंकों को माह के अंत तक सभी स्वीकृत आवेदकों के बीच ऋण का वितरण कराने हेतु निर्देशित किया गया। जिलाधिकारी द्वारा सेन्ट्रल बैंक ऑफ इंडिया के जिला समन्वयकों को निर्देशित किया गया कि अविलंब शत-प्रतिशत स्वीकृति कराना सुनिश्चित करें। साथ ही पंजाब नेशनल बैंक एवं अन्य बैंकों के जिला समन्वयकों को इस माह तक शत-प्रतिशत स्वीकृति एवं वितरण हेतु निर्देशित किया गया।

मुख्यमंत्री उद्यमी योजना की समीक्षा के दौरान महाप्रबंधक द्वारा बताया गया कि इस योजना अंतर्गत 180 स्वीकृत लाभुकों में से 679 को प्रथम किस्त, 425 को द्वितीय किस्त एवं 18 लाभुकों को तृतीय किस्त प्रदान कर दिया गया है।

जिलाधिकारी द्वारा महाप्रबंधक को निर्देशित किया गया कि इस माह के अंत तक अनिवार्य रूप से द्वितीय किस्त का शत-प्रतिशत भुगतान कराना सुनिश्चित करें। साथ ही तृतीय किस्त का भी भुगतान कराना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी द्वारा मुख्यमंत्री उद्यमी योजना के लाभुकों को बिजली कनेक्शन में आ रही परेशानी का त्वरित गति से निराकरण करने हेतु निर्देशित किया गया। इस हेतु कार्यपालक अभियंता, विद्युत बेतिया एवं बगहा प्रमंडल को प्राथमिकता के आधार पर बिजली कनेक्शन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया। प्रधानमंत्री सूक्ष्म खाद्य उद्योग उन्नयन योजना (पीएमएफएमइ) योजना की समीक्षा के दौरान महाप्रबंधक, जिला उद्योग केन्द्र द्वारा बताया गया कि इस योजनान्तर्गत 75 आवेदन विभिन्न बैंकों को प्रेषित किया गया है। कुल-06 आवेदन स्वीकृत हुए हैं तथा बैंकों द्वारा 18 आवेदन विभिन्न कारणों से वापस किया गया है। 52 आवेदन अभी बैंकों के पास लंबित है। उन्होंने बताया कि एमएसएमइ योजनान्तर्गत मेसर्स शिवशक्ति इंडस्ट्रीज को बिहार में जेड सिल्वर प्रमाण पत्र प्राप्त हुआ है।

जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि महाप्रबंधक, जिला उद्योग केन्द्र एवं सभी बैंकों के समन्वयक निर्धारित लक्ष्य के विरूद्ध शत-प्रतिशत लक्ष्य हासिल करें। जेड सिल्वर सर्टिफिकेट प्राप्ति पर जिलाधिकारी द्वारा प्रसन्नता व्यक्त की गयी तथा कहा गया कि ऐसा प्रयास करें कि जिले के अन्य इकाईयों को भी जेड सर्टिफिकेशन से लाभान्वित किया जा सके।

Previous articleजिलास्तर पर कैंप मोड में सम्पन्न कराएं शत-प्रतिशत अंकेक्षण कार्य, डीएम ने चेताया- कोताही पर सख्त कार्रवाई
Next articleकुंडवाचैनपुर पुलिस ने चोरी की बिना नंबर की अपाचे बाइक संग एक को दबोचा