Home न्यूज यूपी के बागपत में समलैंगिक लिव इन रिलेशनशिप को लेकर हंगामा, दो...

यूपी के बागपत में समलैंगिक लिव इन रिलेशनशिप को लेकर हंगामा, दो युवतियां साथ रहने पर अड़ गई थीं

नेशनल डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
उत्तर प्रदेश के बागपत जनपद में समलैंगिक लिव इन रिलेशनशिप को लेकर जमकर हंगामा हुआ। एक युवती के परिजन उसे जबरन अपने साथ ले जाने लगे, इस पर उनकी दूसरी युवती से खूब खींचातानी और मारपीट हुई।


इसके बाद भीड़ जमा हो गई और किसी ने वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। मौके पर पुलिस पहुंची और दोनों युवतियों व परिजनों को थाने ले गई। जहां एक युवती को उसके परिजनों के साथ मुजफ्फरनगर भेज दिया। दूसरी युवती ने आत्महत्या की चेतावनी दी है।
थाने में छपरौली कस्बे की युवती ने बताया कि वह और मुजफ्फरनगर के एक गांव की रहने वाली सहेली एक साल से कस्बा छपरौली में लिव इन में रह रहे हैं। दोनों बालिग हैं। सहेली के परिजनों को यह रिश्ता मंजूर नहीं है। वह उसे कई बार जान से मारने की धमकी दे चुके हैं। गत 29 सितंबर 2020 को दोनों ने एसपी बागपत को प्रार्थना पत्र देकर जान-माल की सुरक्षा की गुहार लगाई थी। रविवार को दोनों किसी काम से बड़ौत आई हुई थीं।
यहां सहेली के पिता और अन्य परिजनों ने उन्हें नगर की छपरौली चुंगी के पास दिल्ली-सहारनपुर हाईवे पर रोक लिया और सहेली को बाइक पर ले जाने लगे। इस दौरान बागपत निवासी युवती के साथ मारपीट भी हुई। इससे वहां भारी भीड़ जमा हो गई। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों पक्षों को कोतवाली ले गई।

बागपत की युवती का आरोप है कि कोतवाली पुलिस ने उस पर सहेली के साथ गलत काम करने का आरोप लगाया और सहेली को उसके परिजनों के साथ भेज दिया। युवती ने चेतावनी दी कि यदि जल्द ही उसे उसकी सहेली से नहीं मिलवाया गया, तो वह आत्महत्या कर लेगी। उधर, मुजफ्फरनगर निवासी सहेली के पिता का कहना था कि युवती ने उनकी बेटी को बहला-फुसलाकर अपने साथ रख रखा था। इसलिए उसके चंगुल से छुड़ाकर ले जा रहे हैं। सीओ आलोक कुमार का कहना था कि मामले की छानबीन की जा रही है, नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

छपरौली में मिली थीं दोनों युवतियां
मुजफ्फरनगर निवासी सहेली अपनी बुआ के यहां बागपत के एक गांव में रहती थी और छपरौली के एक नर्सिंग होम में सहायिका के रूप में काम करती थी। युवती भी नर्सिंग होम में आती-जाती थी। दोनों की मुलाकात एक साल पहले यहीं हुई थी। तभी से दोनों लिव इन में रह रही थीं। दोनों ने अपने परिजनों से कह दिया कि किसी भी लड़के से शादी नहीं करेंगी। दुनिया उनके रिश्ते को चाहे कोई भी नाम दे, वे साथ ही रहेंगी। दोनों ने परिजनों से जान का खतरा बताया। बागपत निवासी युवती कांग्रेस की महिला इकाई से जुड़ी है। इसकी पुष्टि कांग्रेस की महिला जिलाध्यक्ष राकेश सौदाई ने भी की है।

 

Previous articleकल मंगलवार को होगा 12 विस के प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला, काउंटिंग को ले प्रशासनिक तैयारी पूरी, बगैर पास मतगणना केंद्र पर जाने की किसी को अनुमति नहीं
Next articleबाम्बे हाईकोर्ट का अर्नब गोस्वामी को बड़ा झटका, खारिज की जमानत याचिका