Home कोरोना किस कंडीशन में घर में मास्क लगाना जरूरी, क्या घर के खिड़की-दरवाजे...

किस कंडीशन में घर में मास्क लगाना जरूरी, क्या घर के खिड़की-दरवाजे बंद रखने से होगा कोरोना से बचाव? पढ़ें खबर

हेल्थ डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
कोरोना के कहर के कारण लोग दहशत में है। वह अलग-अलग तरीकों से खुद का बचाव कर रहे हैं। लोग अब घर के खिड़की-दरवाजे बंद करके और घर में भी मास्क लगाकर रह रहे हैं। डॉक्टरों का कहना है कि संक्रमण से बचाव करने के लिए कुछ अलग करने की जरूरत नहीं है। जरूरी है कि बाहर जाते समय मास्क लगाए और शारीरिक दूरी का पालन करते रहें। साथ ही, घर का जो सदस्य बाहर जा रहा है वह घर पर भी मास्क लगाकर रखेगा तो इससे अन्य लोगों में संक्रमण का खतरा कम रहेगा। दूसरी तरफ घर को पूरी तरह पैक करना ठीक नहीं है। इसकी जगह घर को हवादार बनाने के लिए खिड़की-दरवाजे खुले रखें।

डॉक्टरों का कहना है कि यदि घर में कोई कोरोना संक्रमित है तब तो मास्क पहनना ही है, लेकिन अगर नहीं भी है और आप घनी आबादी वाले इलाके में या ऊंची इमारत में रहते हैं तो मास्क लगाकर घर पर रह सकें तो अच्छा होगा।

एम्स के डॉक्टर विक्रम बताते हैं कि अगर कोई व्यक्ति घर से बाहर जा रहा है तो वो बाहर से संक्रमण ला सकता है, हो सकता है वो खुद बिना लक्षण वाला हो और घर के बाकी बड़े लोगों को संक्रमित कर दें। इसलिए जरूरी है कि घर पर रहने वाले अन्य लोग मास्क लगाए और खुद का बचाव रखें। हालांकि, अगर घर में दो या तीन सदस्य ही हैं और सभी अलग-अलग कमरों में रहते हैं तो मास्क लगाने की जरूरत नहीं है।

घर में मास्क लगाने की सलाह मिलने पर ये कई लोगों के दिमाग में आ रहा है कि वायरस हवा में और खिड़कियों और वेंटिलेशन की जगह से आकर उन्हें संक्रमित कर सकता है। इस  सवाल के जवाब में वरिष्ठ चिकित्सक कमलजीत सिंह कैंथ बताते हैं कि हवा का वेंटिलेशन जरूरी है। अगर संक्रमित व्यक्ति के कारण संक्रमण के अणु घर में हैं और कुछ अन्य व्यक्ति संक्रमित व्यक्ति के साथ एकदम बंद कमरे में हैं तो वे अणु वक्त के साथ और बनेंगे। इसलिए वेंटिलेशन जरूरी है। दिन में कम से कम दो बार घर के खिड़की और दरवाजे जरूर खोलने चाहिए। जो लोग घर में पूरी तरह बंद रहेंगे उनके संक्रमित होने का खतरा ज्यादा है। इस समय ज्यादा घबराने की जरूरत नहीं है। संक्रमण से बचाव के लिए मास्क लगाएं। शारीरिक दूरी का पालन करें और हाथा धोते रहें।