Home न्यूज बगहा में अगलगी की घटनाओं में कई घर खाक, लाखों की संपत्ति...

बगहा में अगलगी की घटनाओं में कई घर खाक, लाखों की संपत्ति स्वाहा

बिहार डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
बगहा दो प्रखंड के खरहट त्रिभौनी पंचायत के महुआ गांव में आग लगने से दो घर जलकर राख हो गए. संतोष यादव एवं उनके चार भाइयों के घर में आग लगने के कारणों का पता नहीं चल सका है. काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया जा सका है. वहीं बगहा एक प्रखंड स्थित हरपुर गांव के खलिहान में अगलगी की घटना में करीब 15 हजार बोझा धान जलकर राख हो गए.

पंचायत के मुखिया कल्पनाथ पांडेय ने बताया कि गांव के फागु दास, प्रेम चैधरी, राम कुमार दास, पारस मुसहर, देबा मुसहर समेत लगभग दो दर्जन किसानों के धान का बोझा खलिहान में रखा हुआ था. शनिवार के दोपहर में अचानक आग की लपट दिखाई पड़ी. गांव में हाहाकार मच गया. जबतक लोग आग बुझाने के लिए पहुंचे. तबतक आग पूरी तरह फैल चुका था. आगलगी की घटना की खबर के बाद बगहा से अग्निशमन सेवा गाड़ी (दमकल) पहुंची. ग्रामीणों के सहयोग से आग बुझाया गया. घटना से ग्रामीण शोक में डूब गए. उनकी गाढ़ी कमाई कुछ ही घंटों में खाक हो गई. ग्रामीण दुःखित होकर पंचायत के मुखिया कल्पनाथ पांडेय के पास पहुंचे. मुखिया ने ग्रामीणों को आश्वासन दिया कि उनके नुकसान की भरपाई के लिए प्रशासन को सूचना दी जाएगी.
वहीँ रामनगर प्रखंड के खटौरी पंचायत के बेलवा मोकरी गांव में दिवाली की रात एक झोपड़ी में आग पकड़ लिया. किसी तरह गृह स्वामी ने बाहर निकलकर अपनी जान बचाई. स्थानीय लोगों के सहयोग से आग को काबू करने की बहुत कोशिश हुई. इसके बावजूद आग पर काबू नहीं पाया जा सका. जिससे देखते देखते झोपड़ी पूरी तरह धू धूकर जल गई. जिससे उसमें मौजूद लाखों की संपत्ति जल गई. गृह स्वामी की पहचान बेलवा गांव के मनीष यादव के रूप में हुई. मनीष यादव ने बताया कि आग इतनी तेज थी कि उसके अंदर मौजूद भैंस का एक बच्चा, बकरी, बाइक और अनाज पूरी तरह जल गए. खटौरी पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि मोतीलाल साह और प्रखंड प्रमुख प्रतिनिधि सुरेंद्र यादव ने मौके पर पहुंचकर गृह स्वामी का हाल लिया. उनकों आर्थिक सहयोग दिलाने की सांत्वना भी दिया.

Previous articleपूर्वी चंपारण में दीपावली की रात अगलगी के दो दर्जन से अधिक मामले, कई घर राख
Next articleमधुबनी में अनाज अनलोडकर लौट रहे तेज रफ्तार ट्रक ने 4 लोगों को कुचला, तीन की मौत, भड़के लोग