Home न्यूज सुरक्षा बलों ने ट्रक में गोला-बारूद लेकर जम्मू से श्रीनगर जा रहे...

सुरक्षा बलों ने ट्रक में गोला-बारूद लेकर जम्मू से श्रीनगर जा रहे जैश के चार आतंकियों को मार गिराया

नेशनल डेस्क। यूथ मुकाम न्यूूज नेटवर्क
जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में सुरक्षाबलों ने जैश ए मोहम्मद के चार आतंकियों को मुठभेड़ के बाद मार गिराया। ये चारों आतंकी पाकिस्तान के थे और ट्रक में गोला-बारूद लेकर जम्मू से श्रीनगर जा रहे थे। खुफिया एजेंसी से मिली खबर के बाद सुरक्षाबलों ने नगरोटा स्थित टोल प्लाजा पर वाहनों की जांच शुरू की। सुबह पांच बजे के करीब सुरक्षाबलों ने एक ट्रक को रोका, इस ट्रक में आतंकी मौजूद थे। आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग की और जंगल की तरफ भाग निकले। इस दौरान सुरक्षाबलों ने जंगल में तलाशी अभियान के दौरान आतंकियों से आत्मसमर्पण के लिए कहा, लेकिन आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर गोलीबारी कर दी।

सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई करते हुए आतंकियों को मार गिराया। वहीं, मुठभेड़ में एसओजी के दो जवान घायल हुए हैं। घायल जवानों में अखनूर के कुलदीप राज (32) और नील कासिम बनिहाल रामबन के मोहम्मद इशाक मलिक (40) शामिल हैं।
दोनों को गर्दन में चोट आई है। घायल जवानों को जीएमसी जम्मू में भर्ती कराया गया है और उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है। सुरक्षाबलों ने जांच के दौरान ट्रक से भारी मात्रा में गोला-बारूद और हथियार बरामद किए हैं। इसके बाद सुरक्षाबलों ने ट्रक को ही उड़ा दिया।
जम्मू-श्रीनगर नेशनल हाईवे के किनारे नगरोटा में सेना के कैंप की सुरक्षा कड़ी कर दी गई है। मुठभेड़ के चलते जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग को भी बंद कर दिया गया है। जिस ट्रक में आतंकी आए थे, उसका नंबर जम्मू-कश्मीर का है।
नगरौटा एनकाउंटर के बारे में जानकारी देते हुए जम्मू-कश्मीर पुलिस के आईजी विजय कुमार ने कहा कि पुलिस को पूरी खबर थी कि आतंकी पाक से कश्मीर आ रहे हैं, जिला पंचायत चुनाव में हमले की साजिश रची जा रही थी। केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल ने बताया कि आतंकियों के पास से कुल 11 एके-47 राइफलें बरामद की हैं।
जम्मू-कश्मीर पुलिस के आईजी मुकेश सिंह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के नगरोटा में आतंकियों के पास से 11 एके-47 राइफल बरामद और गोला-बारूद बरामद हुआ है।  सुरक्षाबलों ने जैश के चार आतंकियों को ढेर किया है। ये बड़े आतंकी थे यह उनके हथियार देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है। इंटेलीजेंस इनपुट का स्रोत बताया नहीं जा सकता है। मारे गए आतंकियों की पहचान नहीं हुई है।
ट्रक का चालक फरार हो गया है। सीआरपीएफ हमारे साथ कदम से कदम मिलाकर चल रहे हैं। जो आतंकी मारे गए हैं हो सकता है वो पाकिस्तान के हो। डीडीसी चुनाव को हर हाल में सफल बनाएंगे.

Previous articleदिल्ली पुलिस की हवलदार ने ढाई माह में 76 लापता बच्चों को ढूंढकर पेश की अनोखी मिसाल, मिला प्रमोशन
Next articleभ्रष्टाचार के आरोप के बाद शिक्षा मंत्री मेवालाल चैधरी ने दिया इस्तीफा, तेजस्वी ने कसा तंज तो अजय आलोक ने दिया जवाब