Home क्राइम सरपंच के पुत्र ने गांव की 16 वर्षीया लड़की के साथ किया...

सरपंच के पुत्र ने गांव की 16 वर्षीया लड़की के साथ किया रेप, ऐसे हुआ मामले खुलासा

नेशनल डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
राजस्थान के बाड़मेर जिले के एक गांव में सरपंच के 40 वर्षीय बेटे द्वारा कथित तौर पर एक 16 वर्षीय लड़की के साथ रेप करने का मामला सामने आया है। लड़की के आठ माह की गर्भवती होने के बाद परिवार को इस घटना का पता चला।

पुलिस ने बताया कि पीड़िता के पिता की शिकायत पर राजस्थान के बाड़मेर जिले के सिंधरी थाने में आरोपी के खिलाफ पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। आरोपी की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं। आरोपी की पहचान घमंडा राम (40) के रूप में हुई है।

सिंधरी थाना प्रभारी सुरेंद्र कुमार ने कहा कि पीड़िता साइंस की छात्रा है और बारहवीं कक्षा में पढ़ती है। शिकायत में आरोप लगाया गया है कि सरपंच के बेटे आरोपी ने लड़की के साथ बलात्कार किया और सामाजिक बदनामी और आरोपी द्वारा दी गई धमकी के कारण उसने घटना के बारे में किसी को कुछ नहीं बताया।

पुलिस ने कहा कि घटना तब सामने आई जब लड़की ने अपने शरीर में बदलाव देखा और अपनी मां के साथ घटना साझा की; वह आठ माह की गर्भवती पाई गई।

पीड़िता में बहुत अधिक शारीरिक परिवर्तन दिखाई नहीं दे रहे थे, जिसके कारण परिवार में किसी ने भी इस पर ध्यान नहीं दिया या पता नहीं चला, लेकिन चूंकि वह एक विज्ञान की छात्रा है, इसलिए लड़की ने शारीरिक परिवर्तनों को महसूस किया और परिवार के सदस्यों को इस बारे में बताया, इसके बाद उन्होंने पुलिस से संपर्क किया।

थाना प्रभारी ने कहा कि गुरुवार को एक मामला दर्ज किया गया था और मेडिकल टेस्ट किया गया था। पीड़िता को बाल कल्याण समिति (सीडब्ल्यूसी) के समक्ष पेश किया गया, जहां उसके बयान दर्ज किए गए। उन्होंने कहा कि पीड़ित लड़की का धारा 164 के तहत बयान दर्ज किया जाएगा।

परिवार ने शिकायत में आरोप लगाया है कि लगभग सात-आठ महीने पहले जब पीड़िता अपने स्कूल से वापस लौट रही थी तो आरोपी घमंडा राम ने उसे घर छोड़े की बात कहकर उसे सुनसान जगह पर ले जाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। उन्होंने कहा कि पीड़िता को देखकर यह पता लगाना मुश्किल है कि वह गर्भवती है, लेकिन मेडिकल बोर्ड ने उसके गर्भवती होने की पुष्टि की है।

धारा 164 के तहत उसके बयान दर्ज होने के बाद उसे प्रसव होने तक महिला सुधार गृह भेजा जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रसव के बाद डीएनए नमूना लिया जाएगा।

 

Previous articleआदर्श मैथेमैटिक्स के छात्रों ने बीएससी ऑनर्स में लहराया सफलता का परचम
Next articleब्रह्माकुमारी वरदानी भवन सेवाकेंद्र में शिक्षाविदों को किया गया सम्मानित