Home न्यूज घोटोले के आरोपी को शिक्षा मंत्री बनाये जाने पर राजद ने नीतीश...

घोटोले के आरोपी को शिक्षा मंत्री बनाये जाने पर राजद ने नीतीश सरकार पर बोला हमला, कहा- जिस भ्रष्टाचारी को सुशील मोदी खोज रहे थे उसे मंत्री पद

बिहार डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
बिहार में मंगलवार को नवगठित मंत्रिमंडल में विभागों का बंटवारा कर दिया गया, मेवालाल लाल चैधरी को शिक्षा विभाग की जिम्मेदारी दी गई है। आरजेडी ने मेवालाल चैधरी को लेकर नीतीश सरकार पर हमला बोला है। मंगलवार को आरजेडी की ओर से ट्वीट किया गया, जिसमें लिखा है कि जिस भ्रष्टाचारी जेडीयू विधायक को सुशील मोदी खोज रहे थे, उसे नीतीश कुमार ने मंत्री पद से नवाजा।

तारापुर के नवनिर्वाचित विधायक डॉ मेवालाल चैधरी राजनीति में आने से पहले वर्ष 2015 तक वे भागलपुर कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति थे। वर्ष 2015 में सेवानिवृत्ति के बाद राजनीति में आए। इसके बाद जदयू से टिकट लेकर तारापुर से चुनाव लड़े और जीत गए। लेकिन चुनाव जीतने के बाद डॉ चैधरी नियुक्ति घोटाले में आरोपित किए गए। कृषि विश्वविद्यालय में नियुक्ति घोटाले का मामला सबौर थाने में वर्ष 2017 में दर्ज किया गया था। इस मामले में विधायक ने कोर्ट से अंतरिम जमानत ले ली थी। वहीं दूसरी ओर मेवालाल चैधरी के मंत्री बनाए जाने से मुंगेर के लोगों में हर्ष का माहौल है। इससे पहले मुंगेर जिले से शैलेश कुमार को मंत्रिमंडल में जगह मिली थी। तारापुर से कड़े संघर्ष के बाद डॉ चैधरी दूसरी बार विधायक निर्वाचित किए गए हैं। मंत्री बनने क्षेत्र के लोगों को तारापुर के विकास की उम्मीद जगी है। इससे पहले वर्ष 2010-15 में उनकी पत्नी स्व. नीता चैधरी यहां से विधायक निर्वाचित हुई थीं।

डॉ मेवालाल चैधरी तारापुर प्रखंड के कमरगांव गांव के निवासी है। मेवालाल चैधरी की पत्नी स्व. नीता चैधरी राजनीति में काफी सक्रिय रहीं। वे जदयू के मुंगेर प्रमंडल की सचेतक भी थीं। 2010-15 में तारापुर से विधायक चुनी गयीं। वर्ष 2019 में गैस सिलेंडर से लगी आग में झुलसने से उनकी मौत हो गयी थी। मेवालाल चैधरी के दो बेटे हैं। बड़ा बेटा रवि प्रकाश अमेरिका में तो छोटा बेटा मुकुल प्रकाश आस्ट्रेलिया में सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं।

 

Previous articleपिपरा की बेटी की आत्मा की शांति और जल्द चार्जशीट के लिए निकला कैंडल मार्च, आंदोलन की चेतावनी
Next articleहरसिद्धि के बैरियाडीह में ससुराल आये दामाद की हत्या, पुलिस ने ससुर को किया गिरफ्तार