Home न्यूज सुगौली में प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय ने सजाई लक्ष्मी की चैतन्य झांकी

सुगौली में प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय ने सजाई लक्ष्मी की चैतन्य झांकी

सुगौली। अशोक वर्मा
दीपावली की पूर्व संध्या पर प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय सुगौली सेवा केंद्र में लक्ष्मी की अति आकर्षक चैतन्य झांकी सजाई गई। झांकी के दर्शनार्थ काफी संख्या में भाई-बहन उपस्थित हुए। उक्त अवसर पर सेवा केंद्र प्रभारी बीके मीरा बहन ने मुरली वर्ग चलाया उसके बाद लक्ष्मी मम्मा को भोग स्वीकार कराया गया।

दीपावली के आध्यात्मिक रहस्य पर सेवा केंद्र प्रभारी ने विस्तार से प्रकाश डाला। प्रभारी बीके मीरा बहन ने कहा कि जिस तरह दीपावली में इसलिये घर के कोने -कोने की सफाई की जाती है ताकि लक्ष्मी का स्वागत अच्छे ढंग से हो सके। लक्ष्मी स्वच्छता को पसंद करती है। ठीक यही बात मनुष्य के जीवन में होता है। जब उसके अंदर और बाहर दोनों स्वच्छ हो जाता है तो परमात्म अनुभूति होती है। दीपावली के पर्व पर उन्होंने कहा कि असूरो पर देवताओं के विजय का प्रतीक पर्व है दिपावली। उन्होंने कहा कि जिस दिन मनुष्य अपने अंदर के दिवा को जला लेगा, उसका जीवन प्रकाशमय हो जाएगा । ब्रह्माकुमारीज के सभी सेवा केंद्रों पर योग एवं अध्यात्मिक के पढ़ाई के द्वारा आंतरिक ज्योत जगाई जाती है। दीपावली का सच्चा अर्थ भी यही है। कल्प पहले के संगम युग पर जो पतित दुनिया में सहज राजयोग एवं ईश्वरीय पढ़ाई से विकारों पर जीत पायी गयी थी उसी का यादगार द्वापर से दीपावली पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है । उक्त मौके पर सुगौली सेवा केंद्र के काफी भाई-बहन उपस्थित थे और सभी ने बड़े ही आत्मिक भाव से लक्ष्मी की आरती की ।

 

Previous articleसीएम नीतीश कुमार के इस्तीफे के बाद राज्यपाल ने 16वीं विधानसभा को किया भंग, 15 नवंबर को विधायक दल की बैठक
Next articleस्वीप आईकॉन मधुरेन्द्र ने ‘वोट फॉर बेटर बिहार’ के लिए मतदाताओं को जताया आभार