Home न्यूज पीएम मोदी ने किया काशी-प्रयागराज सिक्स लेन परियोजना का लोकार्पण, कहा- किसानों...

पीएम मोदी ने किया काशी-प्रयागराज सिक्स लेन परियोजना का लोकार्पण, कहा- किसानों के साथ छल करने वाले फैला रहे भ्रम

नेशनल डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
वाराणसी पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने काशी और प्रयागराज के बीच 2474 करोड़ की सिक्स लेन परियोजना का सोमवार की दोपहर लोकर्पण किया। दोपहर 2.10 पर विशेष विमान से बाबतपुर एयरपोर्ट पहुंचे पीएम मोदी ने सबसे पहले परियोजना के मॉडल को देखा। पीएम मोदी ने कहा कि सिक्स लेन देव दीपावली पर काशी को उपहार है। मोदी ने कहा कि आजादी के बाद कभी इतना काम नहीं हुआ है।

खजुरी में जनसभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कृषि कानून के फायदे भी गिनाएं और विपक्ष पर भ्रम फैलाने का आरोप लगाया। नए कानून से किसानों को छल से बचाने को विकल्प मिला है। किसानों को नए प्रकल्प और विकल्प दोनों साथ साथ चलें तभी देश का कायाकल्प होता है। सरकारें नीतियां बनाती हैं। नीतियों पर सवाल उठता है तो उसका लाभ होता है। लेकिन पिछले कुछ समय से अलग ही देखने को मिल रहा है। पहले सरकार का फैसला लोगों को पसंद नहीं आता था तो विरोध होता था। अब विरोध का आधार फैसला नहीं बल्कि, भ्रम फैलाकर, आशंकाए फैलाकर अपप्रचार किया जा रहा है। भविष्य को लेकर आशंकाएं फैलाई जा रही हैं। जो हुआ ही नहीं है, जो होगा ही नहीं, उसे लेकर समाज में भ्रम फैलाया जा रहा है। ऐसा ही कृषि सुधारों के मामले में भी जानबूझकर खेल खेलाजा रहा है। यह वही लोग हैं, जिन्होंने दशकों तक किसानों के साथ छल किया है।

पीएम मोदी ने कहा कि एमएसपी की घोषणाएं बहुत होती थी लेकिन खरीद नहीं होती थी। किसानों के नाम पर कर्ज माफी के पैकेज घोषित किये जाते थे लेकिन छोटे किसानों तक यह पहुंचते ही नहीं थे। कर्ज माफी के नाम परछल किया गया। किसानों के नाम पर योजनाएं देते थे लेकिन छल होता था। वो खुद मानते थे कि एक रुपये में केवल 15 पैसा ही पहुंचता था। यूरिया खाद के नाम पर भी छल किया जाता था। किसान के नाम पर किसी और को फायदा पहुंचाया जाता था। यही खेल लंबे समय तक देश में चलता रहा है।

देव दीपावली के खास अवसर पर पहुंचे पीएम मोदी पौने सात घंटे रहेंगे। इस दौरान पीएम मोदी यहां दो जनसभाओं को संबोधित करने के साथ ही जाह्नवी तट पर अर्द्ध चंद्राकार घाटों पर सजने वाले दीपोत्सव में शामिल होंगे। दीपदान के बाद पीएम क्रूज के जरिए घंटेभर तक गंगा के दोनों किनारे पर होने वाले दीपदान का नजारा लेंगे। विश्वनाथ मंदिर कारिडोर में हो रहे निर्माण कार्यों का जायजा लेंगे। चेतसिंह घाट के सामने रुक कर यहां रामायण पर आधारित लेजर शो देखेंगे। मोदी की पहली सभा राजातालाब के पास खजुरी में होगी।

 

Previous articleशर्मनाकः औरंगाबाद में कोचिंग टीचर ने नाबालिग छात्रा को बनाया हवस का शिकार, पीड़िता ने की खुदकुशी की कोशिश
Next articleवाल्मीकिनगर में कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर 80वां नारायणी गंडकी महाआरती कार्यक्रम का आयोजन