Home न्यूज नीतिश के ‘ये मेरा अंतिम चुनाव है’ वाले बयान पर पर विपक्षी...

नीतिश के ‘ये मेरा अंतिम चुनाव है’ वाले बयान पर पर विपक्षी दलों का हमला, कहा. सीएम ने हार कबूली

बिहार डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण के लिए गुरुवार को चुनाव प्रचार थम गया। सभी राजनीतिक पार्टियों के नताओं ने गुरुवार को अलग अलग जनसभाओं को संबोधित किया। इस बीच बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पूर्णिया में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि आज चुनाव का आखिरी दिन है, परसों (शनिवार) को चुनाव है और ये मेरा अंतिम चुनाव है। अंत भला तो सब भला।

नीतीश कुमार जी थक चुके हैं, अब उन्हें अहसास हुआ- तेजस्वी
सीएम नीतीश के इस बयान को लेकर विपक्षी दलों ने उनपर पर निशाना साधा। इस कड़ी में राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा, मैं जो बात पहले से कहता रहा हूं कि नीतीश कुमार जी थक चुके हैं, उनसे बिहार संभल नहीं रहा है। वो जमीनी हकीकत को पहचान नहीं पाए और जब उन्हें अहसास हुआ तो उन्होंने संन्यास लेने की घोषणा कर दी।

अब जदयू का कोई अस्तित्व नहीं बचा है- चिराग
वहीं, लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने कहा कि अगर रणभूमि से नेता ही गद्दी छोड़ कर भाग जाए तो बाकी के लोग क्या करेंगे? अब जदयू का कोई अस्तित्व नहीं बचा है। अगर नीतीश कुमार जी ये सोच रहे हैं कि ये घोषणा करके वो जांच की आंच से बच जाएंगे तो ये मैं होने नहीं दूंगा।

गए।

नीतीश जी ने आखिरी चुनाव बोलकर एनडीए की हार स्वीकार कर ली- सुरजेवाला
इसके अलावा कांग्रेस की तरफ से रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि नीतीश जी ने चुनाव के तीसरे चरण में वोट डालने से पहले ही इस चुनाव को अपना आखिरी चुनाव बोलकर एनडीए की हार स्वीकार कर ली है। उन्होंने अब रिटायरमेंट की घोषणा भी कर दी है वो बिहार को कभी हरा नहीं पाएंगे।

बिहार महागठबंधन के साथ फिर जीतेगा
सुरजेवाला ने आगे कहा कि बिहार महागठबंधन के साथ फिर जीतेगा। अच्छा होता कि नीतीश जी और सुशील मोदी जी बिहार की जनता से बिहार को बदहाली की कगार पर लाकर खड़ा करने के लिए मांफी मांग कर संन्यास लेते।

बिहार को नीतीश कुमार की जरूरत है- जीतन राम मांझी
वहीं, हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के प्रमुख जीतन राम मांझी ने सीएम नीतीश के श्यह मेरा आखिरी चुनाव हैश् वाले बयान पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि अगर सीएम नीतीश कुमार के कहने का मतलब है कि वह सेवानिवृत्त हो रहे हैं, तो यह पार्टी या बिहार के लिए अच्छा नहीं है। बिहार को नीतीश कुमार की जरूरत है। उनकी जगह लेने वाला कोई नहीं है। इसके अलावा उन्होंने राजद नेता तेजस्वी पर निशाना साधते हुए कहा कि उनकी एकमात्र योग्यता यह है कि वह एक सीएम के बेटे हैं। नीतीश कुमार पिछले 15 वर्षों से लोगों के लिए काम कर रहे हैं और हमें उम्मीद है कि वह भविष्य में भी ऐसा करते रहेंगे।

तीसरे चरण में इन 15 जिलों में मतदान होगा
बिहार चुनाव के तीसरे व अंतिम चरण का चुनाव 15 जिलों में 78 सीटों पर होना है। तीसरे चरण में 1204 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। तीसरे चरण में इन 15 जिलों में मतदान होगा, जिनमें पश्चिम चंपारण, पूर्वी चम्पारण, सीतामढ़ी, मधुबनी, सुपौल, अररिया, मधेपुरा, पूर्णिया, कटिहार, किशनगंज, सहरसा, दरभंगा, वैशाली, मुजफ्फरपुर और समस्तीपुर शामिल हैं।

Previous articleशत्रु गाजर घास बनेगी पर्यावरण मित्र, पार्थेनियम से बनेगा वर्मी कम्पोष्ट
Next articleगांधी संग्रहालय मोतिहारी से निकला मतदाता जागरूकता को लेकर मशाल जुलूस, डीएम ने की अपील निर्भीक हो करें मतदान