Home न्यूज हाईकोर्ट के आदेश पर दिल्ली आईटीओ कब्रगाह में सुपुर्द-ए-खाक हुए पूर्व सांसद...

हाईकोर्ट के आदेश पर दिल्ली आईटीओ कब्रगाह में सुपुर्द-ए-खाक हुए पूर्व सांसद मो. शहाबुद्दीन

बिहार डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
सिवान के पूर्व सांसद मो. शहाबुद्दीन को दिल्ली हाईकोर्ट के आदेश पर आईटीओ कब्रगाह में सुपुर्द ए खाक किया गया। शहाबुद्दीन के बेटे ओसामा व उके कुछ खास लोग आईटीओ कब्रगाह में मौजूद रहे। इस दौरान वहां दिल्ली पुलिस भी मौजूद रही।

बता दें, बाहुबली पूर्व सांसद शहाबुद्दीन कोरोना से संक्रमित थे। गंभीर स्थिति में उन्हें दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां शनिवार की सुबह उन्होंने अंतिम सांस ली। उनके निधन के बाद परिवार वाले उनका शव बिहार लाना चाहते थे। शहाबुद्दीन के समर्थक तिहाड़ जेल प्रशासन पर जान बूझकर साजिशन हत्या का आरोप लगा रहे थे। इसी बीच शहाबुद्दीन की पत्नी दिल्ली हाईकोर्ट गई जहां आज कोर्ट ने निर्णय दिया कि शहाबुद्दीन का पोस्टमार्टम के बाद अंतिम संस्कार बिहार की बजाय दिल्ली में ही किया जाए। कोर्ट के आदेश पर शहाबुद्दीन आईटीओ कब्रगाह में सुपुर्द-ए-खाक हुए।

शहाबुद्दीन के निधन के बाद उनके समर्थकों में काफी गुस्सा है। कोर्ट के आदेश पर दिल्ली में शहाबुद्दीन का पोस्टमार्टम पंडित दीन दयाल अस्पताल में सोमवार दोपहर किया गया। उसके बाद उनके समर्थक अड़े रहे कि डेड बॉडी उन सबों को सौंप दी जाए। प्रशासन की ओर से कहा गया है कि 15 से 20 लोग अंतिम संस्कार में जाएं। शहाबुद्दीन के पुत्र ने उनकी मौत को साजिश करार देते हुए पोस्टमार्टम की मांग की थी। प्रशासन और शहाबुद्दीन के समर्थकों को बीच काफी कहासुनी हुई। प्रशंसक उनके पार्थिक शरीर को सिवान ले जाना चाहते थे। आखिकार तय हुआ है कि प्रशासन की निगरानी में उनके समर्थक दिल्ली स्थित आईटीओ कब्रगाह में उन्हें दफन करेंगे।

 

शहाबुद्दीन का शव बिहार लाने में राजद नेताओं द्वारा कोई मदद नहीं किये जाने से बेटे ओसामा समेत उनके समर्थकों में भारी नाराजगी है। सोशल मीडिया के माध्यम से शहाबुद्दीन के समर्थकों ने तेजस्वी यादव को साफ चेतावनी दे दी है कि समय बदलेगा और हिसाब चुकता किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here