Home न्यूज झारखंड में नाबालिग लड़की से रेप व धर्मांतरण के नये मामले का...

झारखंड में नाबालिग लड़की से रेप व धर्मांतरण के नये मामले का खुलासा, बीजेपी सांसद ने कहा- इस्लामीकरण की ओर बढ़ता राज्य

झारखंड डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
झारखंड के खूंटी के जरियागढ़ इलाके में दसवीं की 16 वर्षीय छात्रा से दुष्कर्म का मामला सामने आया है। रेप का आरोपी दूसरे समुदाय का है। वह नाबालिग भी है। मामले का खुलासा तब हुआ जब छात्रा गर्भवती हुई। पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने सोमवार को आरोपी को गिरफ्तर कर रिमांड होम भेज दिया है।

जनकारी के अनुसार आरोपी ने छात्रा से चार बार दुष्कर्म किया। लड़की के गर्भवती होने का पता जब परिजनों को चला तो उन्होंने लड़की से पूछताछ की। पता चलने पर परिजनों ने आरोपी को बुलाया। पर वह नहीं आया। इसके बाद पीड़िता ने परिजनों के साथ थाने जाकर केस दर्ज कराया। मेडिकल जांच में पता चला कि पीड़िता चार महीने की गर्भवती है।

पीड़िता ने पुलिस को दिए बयान में कहा है कि जब वह 9वीं में पढ़ती थी, तब लड़के का फोन आया। नाम-पता पूछने पर फोन काट दिया। कुछ दिनों बाद उसने फिर फोन कर नाम-पता बताया। 9वीं की परीक्षा खत्म होने पर लड़का उससे मिलने स्कूल के पास आया और बाइक पर बैठा सुनसान जगह पर स्थित घर में ले गया और शारीरिक संबंध बनाया। इस पूरे मामले में एसपी अमन कुमार ने कहा कि आरोपी भी नाबालिग है। उसे निरूद्ध कर कार्रवाई की जा रही है। पीड़िता की जांच कराई गई है, जल्द रिपोर्ट आ जाएगी।

इस्लामीकरण की ओर बढ़ता राज्यः दुबे
बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे ने दावा किया है कि पीड़िता के धर्मांतरण का भी प्रयास किया गया था। उन्होंने ट्वीट किया, झारखंड में ग्रूमिंग गैंग का अभी अभी एक कारनामा खूंटी जिले से मिला। 15 साल की आदिवासी लड़की का फकरुद्दीन ने बलात्कार किया, गर्भवती कर जबरन धर्मांतरण का दबाव बनाया। इस्लामीकरण की ओर बढ़ता हमारा राज्य।

आदिवासी लड़की की रेप के बाद हत्या के विरोध में बंद रहा दुमका
दुमका में आदिवासी लड़की की रेप के बाद हत्या को लेकर पूरे झारखंड में उबाल है। इस घटना को लेकर सोमवार को दुमका पूरी तरह बंद रहा। बंद के कारण सड़कों पर आवागमन पूरी तरह ठप रहा।

Previous articleबांका में रात के अंधेरे में प्रेमिका से मिलने पहुंच गया आशिक, ग्रामीणों ने रंगे हाथ पकड़ किया यह हाल
Next articleएमपी में नर्सिंग की छात्रा पर जांबांज मंसूरी डाल रहा था जबरन धर्म परिवर्तन का दबाव, पहले भी दे चुका ऐसी घटना को अंजाम