Home न्यूज मोतिहारी शहर के बूथों का आंखों देखा हालः खुशनुमा मौसम के बावजूद...

मोतिहारी शहर के बूथों का आंखों देखा हालः खुशनुमा मौसम के बावजूद किसी बूथ पर नहीं दिखी लंबी कतार, मतदाताओं में उमंग व उत्साह का अभाव

मोतिहारी। अशोक वर्मा
बिहार विधानसभा मतदान के तीसरे और अंतिम चरण में पूर्वी चंपारण में 6 विधानसभा क्षेत्रों के लिए हो रहे मतदान के दौरान काफी धीमी गति से मतदान होते देखा गया । अपराहन 2ः00 बजे तक मतदान की गति कम ही रही। नगर के विभिन्न मतदान केंद्रों पर दौरा करने के बाद यह देखा गया कि मतदाताओं में पूर्व की भांति उमंग उत्साह नहीं था। नगर के मिस्कॉट मुहल्ला स्थित मुजीब गर्लस हाई स्कूल में बने 3 मतदान केंद्रों पर पिछले चुनाव के अपेक्षाकृत कम मतदाताओं की संख्या देखी गई। धर्म समाज रोड स्थित संस्कृत हाई स्कूल में भी कमोबेश यही स्थिति रही। बुजुर्ग मतदाताओं की संख्या कम देखी गई। वैसे इस बार सुरक्षा का काफी पुख्ता इंतजाम किया गया था । काफी सैनिक बल ड्यूटी पर तैनात थे।

गलत और बोगस मतदाताओं का प्रवेश संभव नहीं था। ऐसा दृश्य इस बार देखने को मिला। हर किसी की जांच सैनिटाइजर की व्यवस्था भी की गई थी ,लेकिन डिस्टेंस मेंटेन नहीं हो रहा था और संभव भी नहीं था। वैसे आम मतदाताओं को कोई असुविधा नहीं हुई। और वे अपना मत जिसे भी देना था वह शांतिपूर्वक देते रहे । कोल्हूअडवा स्कूल की स्थिति भी वही थी वहां भी दिन में 11ः00 बजे तक मुश्किल से 50 लोगों की लाइन लगी हुई थी और लखौरा रोड स्थित सेमरा स्कूल मे मतदाताओं की संख्या कुछ अधिक थी।वृद्धो के लिए स्काउट एंड गाइड के बच्चे सहयोगी बने हुए थे और उन्हें गेट से मतदान केंद्र तक ले जाने में सहयोगी बने हुए थे। शांतिपूर्ण स्थिति थी। मेन रोड पानी टंकी ,जहां पर काफी पुलिस बल थी और कोऑपरेटिव बैंक परिसर में जहां पहले काफी लंबी लाइन लगी रहती थी ,इस बार वह दृश्य नहीं देखने को मिला । छतौनी रोड सथित कोऑपरेटिव बैंक परिसर, जहां पहले मतदान के दिन काफी लंबी लाइनें लगी रहती थी इस बार वह नजारा नहीं मिला।

उसी तरह भवानीपुर जीरात, बनिया पट्टी रोड के अलावां और भी कई बूथों पर भ्रमण करने के बाद शांति का वातावरण मिला और पहले जिस तरह भीड़ बाहर रहती थी, वह भीड़ भी नहीं थी। जबकि मौसम काफी खुशनुमा था।न अधिक ठंड और ना अधिक गर्मी थी, बावजूद मतदाताओं में उमंग देखने को नहीं मिला। हां, विभिन्न बूथों पर मुस्लिम मतदाताओं की संख्या अधिक मिली और भी धर्म के जो भी थे उनमें महिला मतदाता अधिक थी। वे छोटे-छोटे बच्चे गोद में लिए हुए मतदान केंद्र पर लाईन मंे लगी थीं।

 

Previous articleशांतिपूर्ण मतदान को डीएम ने मोतिहारी विस के शहरी बूथों का लिया जायजा, दिये कई निर्देश, पत्नी संग इस बूथ पर किया मतदान
Next articleपूर्णिया में राजद नेता बिट्टू सिंह के भाई की गोली मारकर हत्या, मची सनसनी