Home क्राइम लकड़ी के व्यवसायी का अश्लील वीडियो बना 20 लाख रुपये मांगे, खुद...

लकड़ी के व्यवसायी का अश्लील वीडियो बना 20 लाख रुपये मांगे, खुद को बताया पुलिस, तीन आरोपी धराये

Kewlam

नेशनल डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
दिल्ली पुलिस ने 45 साल के व्यक्ति का जबरन नग्न वीडियो शूट करने के बाद उससे कथित तौर पर जबरन वसूली के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों की पहचान जामिया नगर निवासी आमिर इकबाल (52), सोनिया विहार निवासी मोहम्मद अशरफ (50) और लक्ष्मी नगर निवासी फिरोज (30) के रूप में हुई है। पुलिस के मुताबिक, आमिर इकबाल अपहरण और हत्या के प्रयास के दो पूर्व मामलों में शामिल रहा है।

वहीं मोहम्मद की अशरफ चोरी, हत्या के प्रयास और हथियार अधिनियम के पांच मामलों में संलिप्तता थी। चार नवंबर को ज्योति नगर थाने में भारतीय दंड संहिता की धारा 323, 342, 365, 386, 389, 506, 120-बी/34 के तहत एक व्यक्ति का नग्न वीडियो बनाकर लोगों के एक समूह द्वारा रंगदारी वसूलने का मामला दर्ज किया गया था। यूपी का सहारनपुर निवासी शिकायतकर्ता लकड़ी का व्यवसाय करता है, वह काम के सिलसिले में अक्सर दिल्ली आता रहता है।

पुलिस ने कहा कि पिछले-चार महीने से शिकायतकर्ता को एक महिला के लगातार फोन आ रहे थे और वह उसे बार-बार मैसेज करके कारोबार के सिलसिले में मिलने के लिए मैसेज कर रही थी। जब शिकायतकर्ता महिला से मिला तो उसने बताया कि वह एक विधवा है और तीन बच्चों की मां है। उसने उससे नौकरी की गुहार लगाई। महिला ने उसे अपने एक रिश्तेदार से भी मिलवाया।

पुलिस ने कहा, 28 अक्टूबर को, महिला ने उससे मिलने की जिद की। उसका रिश्तेदार भी कर्दमपुरी पहुंचा जहां वह मौजूद था और उसे एक ऑटो-रिक्शा में लक्ष्मी नगर के ललिता पार्क के ऑफिस ले गया। यहां महिला पहले से मौजूद थी। जैसे ही वह ऑफिस में घुसा तो दो महिलाओं ने उसके कपड़े उतारने शुरू कर दिए। जब उसने विरोध किया तो उन्होंने हंगामा करने की धमकी दी। इस बीच छह-सात लोग भी वहां पहुंच गए।

पुलिस ने आगे कहा, उन्होंने अपना परिचय पुलिसकर्मियों के रूप में दिया और उसका वीडियो शूट करने लगे। उन्होंने उसकी पिटाई की और सारे पैसे ले लिए। उनमें से एक ने खुद को पुलिस इंस्पेक्टर बताकर उसे बंदूक की नोक पर ले लिया और वीडियो के बदले 20 लाख रुपये की मांग की। बाद में, उन्होंने दबाव डालकर महिला के साथ उसका अंतरंग और नग्न वीडियो शूट कर लिया।

उसे कैमरे में यह बोलने के लिए मजबूर किया गया कि उसने 20 लाख रुपए का लोन लिया है और वह इसे दो किस्तों में वापस कर देगा। पुलिस ने कहा कि पैसे देने का आश्वासन देने के बाद उसे छोड़ दिया गया। शुक्रवार को पीड़ित व्यवसायी ज्योति नगर थाने पहुंचा और घटना की जानकारी दी। उसकी शिकायत के आधार पर मामला दर्ज किया गया और आरोपियों को पकड़ने के लिए कई टीमें बनाई गईं।

 

Previous articleरेलवे में अधिकारी बनकर रचाने पहुंच गया शादी, इस हरकत से खुल गई पोल
Next articleटीम इंडिया ने जिम्बाब्बे को 71 रनों से हरा सेमीफाइनल में स्थान किया पक्का, इस टीम के साथ होगी भिड़ंत