Home अंतरराष्ट्रीय अपडेट 2017 में देश में हुए प्रदर्शनों को भड़काने के आरोप में ईरान...

2017 में देश में हुए प्रदर्शनों को भड़काने के आरोप में ईरान ने पत्रकार रूहोल्ला जम को फांसी पर लटकाया

इंटरनेशनल डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
ईरान ने 2017 में देश में हुए प्रदर्शनों को हवा देने के आरोप में पत्रकार रूहोल्ला जम को फांसी दे दी। ईरान के सरकारी टीवी और सरकारी समाचार एजेंसी इरना ने कहा कि जम को शनिवार सुबह फांसी दी गई।

जून में एक अदालत ने जम को मौत की सजा सुनाई थी। जम की वेबसाइट और संदेश भेजने वाले एप ‘टेलीग्राम’ पर बनाए गए एक चैनल ने प्रदर्शनों के समय के बारे में जानकारी का प्रसार किया और अधिकारियों के बारे में भी जानकारी दी, जिससे ईरान के शिया धर्मतन्त्र को सीधी चुनौती मिली।
जून में एक अदालत ने जम को मौत की सजा सुनाई थी। उन्हें धरती पर भ्रष्टाचार (फसाद) का दोषी ठहराया गया था। इस आरोप का इस्तेमाल अक्सर जासूसी मामलों या ईरानी सरकार का तख्ता पलटने की कोशिश के मामलों में किया जाता है। प्रदर्शन 2017 के अंत में शुरू हुए थे जो 2009 के ‘ग्रीन मूवमेंट’ प्रदर्शन के बाद ईरान में सबसे बड़े प्रदर्शन थे।

Previous articleकिसान सम्मेलन में बोले केंद्रीय मंत्री रविशंकर, किसानों की आड़ में टुकड़े-टुकड़े गैंग के लोगों पर होगी सख्त कार्रवाई
Next articleभागलपुर में पिता को पेड़ से बांधने के बाद उसकी आंखों के सामने पीट-पीटकर पुत्र की हत्या