Home न्यूज निर्दलीय उम्मीदवारों ने चिरैया के चुनावी रण को बनाया दिलचस्प

निर्दलीय उम्मीदवारों ने चिरैया के चुनावी रण को बनाया दिलचस्प

मोतिहारी। एके झा
नवेन्दु कुमार रू- पूर्वी चंपारण जिले के हॉट सीट बने चिरैया विधानसभा की लड़ाई को निर्दलीय उम्मीदवारों ने दिलचस्प बना दिया है । इस विधानसभा पर जिले के सभी राजनीतिक धुरंधरों की नजर टिकी हुई है।चिरैया विधान सभा क्षेत्र में दलीय और निर्दलीय उम्मीदवार मिलाकर कुल चैबीस उम्मीदवार अपने भाग्य का फैसला अजमा रहे हैं। चिरैया विधान सभा क्षेत्र में सात नवम्बर को मतदान होना है। दलिय उम्मीदवारों में भाजपा के लाल बाबू गुप्ता, राजद के अच्छे लाल यादव एव रालोसपा के मधुरेंद्र प्रताप सिंह है। वहीं राजद से बेटिकट हुए लक्ष्मी नारायण यादव और पूर्व विधायक अवनीश कुमार सिंह, भाजपा के बागी उम्मीदवार संजय कुमार सिंह , विद्यापति स्कूल के संचालक प्रभाष रंजन,जूनियर योगी कहलाने वाली उषा रानी,पूर्व मुखिया विजय सिंह आदि निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में ताल ठोक रहे हैं।

वोटरों के लिए आसान नहीं है सही प्रत्याशी का चयन । मतदाताओं के समक्ष फिलहाल असमंजस की स्थिति है कि वे किस राह पर जाएं। इधर जाती है तो उधर सेवा और विकास के दावे । वादों की बरसात ने अलग उलझन पैदा कर दी है और भरोसा करें तो किस पर। लेकिन निर्दलीय उम्मीदवारों ने यहां के चुनावी समीकरण को बड़ा दिलचस्प बना दिया है। आम लोग भी कंफ्यूज हैं कि इस विधानसभा चुनाव में किस उम्मीदवार की गोटी लाल होगी। इस विधानसभा का मुख्य मुद्दा किसानों की समस्या और बाढ़ से निजात दिलाना है ।

इसकी भरोसा सभी दलीय और निर्दलीय प्रत्याशी मतदाताओं को दे रहें हैं।लेकिन इस बार चिरैया कि जनता किसके सर पर विजय का ताज पहनायेगी,ये फिलहाल भविष्य के गर्भ में है ।

Previous articleवाहनों से बूथों तक जाएंगे 735 वोटर्स, पीडब्ल्यूडी के 345 व 80 वर्ष से अधिक आयु के हैं 387 मतदाता
Next articleप्रधानमंत्री आगमन को ले सुरक्षा के थे कडे इंतजामात, चप्पे-चप्पे मे थे पुलिस पदाधिकारी व जवानों की तैनाती