Home क्राइम बिहार के वैशाली में विवाहिता को कुर्सी से बांध केरोसिन उड़ेल जिंदा...

बिहार के वैशाली में विवाहिता को कुर्सी से बांध केरोसिन उड़ेल जिंदा जलाया, इस वजह से दिया गया घटना को अंजाम

बिहार डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क

बिहार में वैशाली जिले के गोरौल थाने स्थित बभनटोली गांव में सोमवार की शाम ससुरालियों ने विवाहिता को कुर्सी से बांधकर केरोसिन उड़ेल जिंदा जला दिया। मृतका 30 वर्षीय खुशबू देवी गांव के सोनू कुमार की पत्नी थी। पहले पति की मौत के बाद तीन साल पहले उसने सोनू से दूसरी शादी की थी। ससुराल वाले उसपर मायके से अक्सर पैसा मांगकर लाने का दबाव बनाते थे। घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने लाश को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए हाजीपुर के सदर अस्पताल भेजा।

मृतका की मां वैशाली जिला के देसरी के धर्मपुर निवासी कलवा देवी ने ससुराल वालों पर रुपये के लिए जलाकर मार डालने का आरोप लगाया है। पति के अलावा दो जेठ, एक गोतनी व ससुर के खिलाफ गोरौल थाने में हत्या की एफआईआर दर्ज कराई है। थानाध्यक्ष अनिल कुमार ने बताया कि कमरे में महिला की जली हुई लाश मिली थी। मृतका की मां के आवेदन पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है। आगे की कार्रवाई की जा रही है। फिलहाल आरोपित घर छोड़कर फरार हैं। घटना के बारे में कलवा देवी ने पुलिस को बताया कि ससुराल वालों ने कुर्सी से बांधकर केरोसिन उड़ेलकर जिंदा जला दिया है। इससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। उन्होंने बताया कि ससुराल वाले हमेशा मेरी पुत्री को मायके से रुपये मांगकर लाने के लिए दबाव बनाते थे। कुछ माह पूर्व भी उन्होंने 30 हजार रुपये अपने दामाद को दिया था। यह भी आरोप लगाया कि और पैसे की मांग को लेकर उसके पति, दोनों जेठ, गोतनी व ससुर काफी प्रताड़ित करते थे। सोमवार को भी दिन में इसी बात को लेकर घर में विवाद हुआ था। शाम को जिंदा जलाकर मार दिया गया।

उन्होंने बताया कि उनके पुत्री खुशबू देवी के पहले पति की मौत के बाद दूसरी शादी तीन साल पहले रुसूलपुर इनायत के किसान सोनू कुमार से न्यायालय में की गई थी। उस वक्त उपहार स्वरूप बाइक, आभूषण बर्तन, नगद रुपये भी दिये गए थे। खुशबू के दो बच्चे भी हैं। थानाध्यक्ष अनिल कुमार ने बताया कि अवर निरीक्षक संजय कुमार सिंह को घटना की जांच के लिए भेजा गया है। इसकी छानबीन की जा रही है।

Previous articleराजधानी पटना में घर में घुस लोक पायलट की गोलीमार हत्या, बचाव करने आये पुत्र को भी नहीं बख्शा
Next articleबोर्ड एक्जाम स्पेशल रिपोर्टः बिहार इंटर की PRACTICAL एक्जाम 9 जनवरी से, बोर्ड का आया यह निर्देश, सावधान परीक्षा के दौरान न करें ये गलतियां