Home क्राइम गैंगवारः प्रसाद खरीदने के दौरान हिस्ट्रीशीटर पर ताबड़तोड़ बरसाई गोलियां, फिर हुआ...

गैंगवारः प्रसाद खरीदने के दौरान हिस्ट्रीशीटर पर ताबड़तोड़ बरसाई गोलियां, फिर हुआ ये

नेशनल डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
राजस्थान के जोधपुर में गैंगवार में कुख्यात हिस्ट्रीशीटर पर ताबड़तोड़ गोलियों की बरसात हो गई। बताया जा रहा है कि बाई मंदिर चैराहे पर कार में बैठे हिस्ट्रीशीटर को उसके दुश्मनों ने घेर लिया और फिल्मी अंदाज में ताबड़तोड़ गोलियां बरसाईं। इस घटना में हिस्ट्रीशीटर को गोली लगी, लेकिन वह खतरे से बाहर है। मामले की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने जांच शुरू कर दी है।
जानकारी के मुताबिक, शिवरात्रि के अवसर पर हिस्ट्रीशीटर विक्रम सिंह नांदिया मंदिर में पूजा करने जा रहा था। डाली बाई चैराहे पर वह प्रसाद खरीदने के लिए रुका तो बदमाशों ने उस पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। इससे कार सवार विक्रमसिंह घायल हो गया।

 

रंजिश में किया गया हमला
बताया जा रहा है कि इस घटना को गैंगवार के चलते अंजाम दिया गया। फायरिंग करने का आरोप राकेश मांजू पर है। वह भी हिस्ट्रीशीटर बदमाश है। पुलिस के मुताबिक, गोली लगने से घायल विक्रम सिंह को एमडीएम अस्पताल ले जाया गया, जहां उसकी हालत खतरे से बाहर है। लोगों का कहना है कि दोनों बदमाशों के बीच काफी समय से दुश्मनी चल रही है।
पुलिस पर कार्रवाई न करने का आरोप
शुरुआती जांच में पता लगा है कि विक्रम की पीठ के ऊपर गोली लगी, जिससे उसकी दो पसलियां टूट गईं। वहीं, एक गोली उसके शरीर के किसी हिस्से में धंस गई। हिस्ट्रीशीटर विक्रम सिंह के समर्थकों का आरोप है कि पुलिस इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं कर रही है।

आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस
पुलिस के मुताबिक, शुरुआती जांच में सामने आया कि राकेश मांजू ने फायरिंग की। उसने पुरानी रंजिश के चलते इस घटना को अंजाम दिया। उसे पकड़ने के लिए टीमें लगाई गई हैं। बताया जा रहा है कि कुछ साल पहले राकेश के भाई दिनेश मांजू का कत्ल हो गया था। राकेश को शक है कि इस हत्या में विक्रम भी शामिल था। इसके बाद दोनों के बीच रंजिश बढ़ती चली गई।