Home न्यूज जर्मनी की धरती से पूरी दुनिया में गूँजेगा ‘मोरा चरखा के टूटे...

जर्मनी की धरती से पूरी दुनिया में गूँजेगा ‘मोरा चरखा के टूटे न तार चरखवा चालू रहे’, गांधी जयंती पर होगी डॉक्यूमेंट्री रिलीज

Kewlam

मोतिहारी। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
चम्पारण की माटी में जन्मे और स्वतंत्रता आंदोलन में महात्मा गाँधी को ताकत देने वाले लोकगीतों पर बनी डॉक्यूमेंट्री 2 अक्टूबर को जर्मनी में रिलीज़ होगी।
विषय पर शोधदल के सदस्य साहित्यकार प्रसाद रत्नेश्वर ने बताया कि सोसायटी फ़ॉर इम्पावरमेंट की पहल एवं प्रख्यात गाँधीवादी चिंतक समाजशास्त्री प्रोफेसर(डॉ.) सचीन्द्र नारायण के सानिध्य में लोकगीतों में महात्मा गाँधी नामक डॉक्यूमेंट्री का निर्माण किया गया है। जो गाँधी जयंती के दिन जर्मनी के फ्रिएडबर्ग में रिलीज़ होगी।

इस अवसर पर एक पैनल का गठन किया गया है जो गाँधी लोकगीत एवं विश्व शांतिश् विषय पर चर्चा करेगा। इन सबका सजीव अंतरराष्ट्रीय प्रसारण इंटरनेट के माध्यम से किया जायेगा। डॉक्यूमेंट्री के निर्माता श्री सुभाष हैं।

चम्पारण के लोकगायकों में डॉ. रविकेश मिश्र, अंकिता त्रिपाठी के साथ-साथ बिहार की चर्चित लोकगायिका मनीषा श्रीवास्तव, रामेश्वर तिवारी राजन, डॉ. आइनम सरिता देवी ताना भगत,असम,गुजरात और झारखंड के अन्य लोकगायक-गायिकाओं ने चौता, सोहर, झूमर,होली इत्यादि में गाँधी के प्रभाव का सुंदर गायन किया है। हैरी पारफिट जो कि जर्मनी में सोसायटी फ़ॉर इम्पावरमेंट के प्रतिनिधि हैं,इस आयोजन को लेकर खासे उत्साहित हैं। जर्मनी की धरती से पूरी दुनिया में गूँजेगा ‘मोरा चरखा के टूटे न तार चरखवा चालू रहे…’।

Previous articleगांधी जयंती पर दिन भर रहेगा कार्यक्रमों का तांता, संध्या में सांस्कृतिक कार्यक्रम, डीएम ने की तैयारी की समीक्षा
Next articleदलित महिला को यह लालच दे होमगार्ड जवान ने किया यौन शोषण