Home न्यूज फ्राडः सोनू सूद के नाम पर मदद का झांसा दे एक व्यक्ति...

फ्राडः सोनू सूद के नाम पर मदद का झांसा दे एक व्यक्ति से मांगे 60 हजार, फिर हुआ ये

अभिनेता सोनू सूद को भी इस गिरफ्तारी के बारे में पता चला, जिसके बाद उन्होंने कहा, ‘लोगों को मेरे द्वारा चलाए जा रहे चैरिटी के लिए काम करने का दावा करने वाले गिरोह से सावधान रहना चाहिए।

बिहार डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
मुजफ्फरपुर के 23 वर्षीय आशीष कुमार सिंह को शनिवार को साइबराबाद पुलिस की साइबर क्राइम यूनिट ने गिरफ्तार किया। दरअसल, आरोपी ने अभिनेता सोनू सूद के नाम से मदद का वादा करके तेलंगाना के एक व्यक्ति को कथित रूप से धोखा दिया है। पुलिस को जांच में पता चला कि आरोपी ने ट्वीटर पर खुद को सोनू सूद का सलाहकार बता रखा है।

शिकायतकर्ता ने तीन मार्च को पुलिस से संपर्क किया। इस दौरान उसने बताया कि वह अपने राज्य तेलंगाना में कुछ जरूरतमंद लोगों की मदद करना चाहता था। इस बीच उसे पता चला की सूद भी लोगों की मदद करते हैं। ऐसे में उसने सूद की चैरिटी कंपनी के नंबर का पता लगाना शुरू किया। एक दिन उसे एक नंबर मिला जिस पर उसने कॉल किया।
पुलिस को तेलंगाना निवासी शिकायतकर्ता ने बताया कि कॉल उठाने वाले शख्स ने खुद को सोनू सूद की मदद करने वाली चैरिटी कंपनी का सलाहकार बताया। उसने तेलंगाना के व्यक्ति को मदद करने का आश्वासन देते हुए कहा कि सूद अपनी किटी से 50 हजार रुपये तक का दान देंगे, लेकिन इसके बदले उन्हें पंजीकरण शुल्क के रूप में 8 हजार 300 रुपये देने होंगे।

वहीं, इसके कुछ दिनों बाद आरोपी ने तेलंगाना में उस व्यक्ति को फोन कर कहा कि सूद ने अब मदद के लिए 3 लाख 60 हजार रुपये की सहायता देने का फैसला किया है, लेकिन इसके लिए 60 हजार रुपये का पंजीकरण शुल्क देना होगा। इधर, फोन पर इतनी बड़ी रकम की बात सुनते ही तेलंगाना के व्यक्ति को धोखाधड़ी का शक हुआ, क्योंकि आरोपी की मांग आए दिन बढ़ती जा रही थी। ऐसे में उसने पुलिस से मामले की शिकायत की, जिसके बाद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया।

पुलिस का कहना है कि जब लोग आरोपी से मदद के लिए संपर्क करते थे तब वह उन्हें अपनी पहचान पंकज सिंह भदौरिया बताता था। वह लोगों को इसी नाम से फर्जी पहचान पत्र भी भेजता था। उस पर विश्वास करते हुए लोग उसके द्वारा मांगी गई रकम भेज देते थे। आरोपी उन्हें आश्वस्त करता था कि उन्हें मदद मिलेगी और उनके पैसे वापस कर दिए जाएंगे।

अभिनेता सोनू सूद को भी इस गिरफ्तारी के बारे में पता चला, जिसके बाद उन्होंने कहा, ‘लोगों को मेरे द्वारा चलाए जा रहे चैरिटी के लिए काम करने का दावा करने वाले गिरोह से सावधान रहना चाहिए। मैं लोगों से दान के लिए इस तरह के ऑनलाइन अनुरोधों का मनोरंजन न करने का आग्रह करता हूं।’