Home न्यूज वाल्मीकि नगर के बाबनगढ़ी मंदिर परिसर में किसान गोष्ठी सह कृषि महाआरती...

वाल्मीकि नगर के बाबनगढ़ी मंदिर परिसर में किसान गोष्ठी सह कृषि महाआरती कार्यक्रम का हुआ आयोजन

वाल्मीकि नगर। यूथ मुकाम न्यूज नेेटवर्क
शुक्रवार की देर शाम थाना क्षेत्र के बाबनगढ़ी मंदिर परिसर में किसान गोष्ठी सह कृषि महाआरती कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ सीनजेंटा कंपनी के अभिनव द्विवेदी, परशुराम त्रिवेदी, कृषि वैज्ञानिक विनय कुमार सिंह, अधिवक्ता देवेंद्र कुमार सिंह, समाजसेवी बबलू सिंह, अभिनेता डी.आनंद, स्वरांजलि सेवा संस्थान के मैनेजिंग डायरेक्टर संगीत आनंद, थरुहट की गायिका भारती कुमारी,एवम् पंडित उदय भानु चैबे ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित करके किया। कार्यक्रम के दौरान सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न सरकारी योजनाओं की जानकारी दी गई। सिंजेंटा के अभिनव द्विवेदी ने वरटाको को गन्ने की फसल के लिए रामबाण बताया। उन्होंने कहा कि अत्याधुनिक खेती करने के लिए किसानों को सिंजेंटा के माध्यम से कई सुविधाएं दी जाती है। कृषि वैज्ञानिक विनय कुमार सिंह एवं सिंनजेंटा कंपनी के परशुराम त्रिवेदी ने किसान भाइयों से फसलों से जुड़ी बीमारियों से संबंधित कई सवाल पूछे । किसान भाइयों ने गन्ना, कटहल, लीची,आम ,पपीता और केला की बीमारियों से कृषि विशेषज्ञों को अवगत कराया। सभी समस्याओं का समाधान कृषि विशेषज्ञों ने बताया। किसानों को संबोधित करते हुए अधिवक्ता एवं किसान देवेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि पश्चिमी चंपारण की जमीन काफी उपजाऊ है ।ऐसे में मिट्टी की जांच करा कर हम अपने खेतों में फसलों की बुवाई करें। अब लक्ष्मीपुर रमपुरवा पंचायत में ही मिट्टी की जांच की जा रही है । बबलू सिंह ने किसान भाइयों के लिए आयोजित ऐसे कार्यक्रम की प्रशंसा की। सिंजेंटा द्वारा निर्मित विभिन्न कीटनाशक ,बीज, एवं विभिन्न लोकप्रिय ब्रांडेड दवा, की खूबियों से किसान लाभान्वित हुए। नहरों के सीपेज और लिकेज से किसानों की सैकड़ों एकड़ भूमि बर्बाद हो रही है।फसलों की उपज नहीं हो पा रही है। सरकार को किसानों के हित में नहरों की पक्की करण पर विचार करना चाहिए। गायिका भारती कुमारी ने भैया किसान गीत गाकर किसानों को महिमामंडित किया। इस किसान गोष्ठी में ग्राम पंचायत राज लक्ष्मीपुर रमपुरवा, संतपुर सोह रिया, चंपापुर गनौली, बाल्मीकि नगर, आदि पंचायतों के किसान भाइयों ने मुख्य रूप से भाग लिया। कार्यक्रम के अंत में कृषि सेवा लक्ष्मीपुर, सिंजेंटा एवं स्वरांजलि सेवा संस्थान ने संयुक्त रूप से कृषि महा आरती का आयोजन किया। किसान भाइयों ने धरती माता की पूजा की। नारायणी गंडकी महा आरती के संस्थापक श्री डी आनंद ने कहा कि किसान ही धरती के साक्षात भगवान हैं। किसानों की सेवा ही ईश्वर की सेवा है। किसानों को दुखी करके विकसित राष्ट्र की कल्पना नहीं की जा सकती हैं। पंडित उदय भानु चैबे के वैदिक मंत्रोच्चारण से किसान महा आरती शुरू हुई। सभी किसानों ने संयुक्त रूप से 51कुंडीय दीप प्रज्वलित करके कृषि महा आरती के संदेश को आत्मसात किया । धरती माता की जय ,किसान भाइयों बहनों की जय ,जय जवान जय किसान आदि नारों से मंदिर परिसर गुंजायमान हो उठा। मंच संचालन डी, आनंद एवं विनय कुमार सिंह ने किया। जबकि धन्यवाद ज्ञापन देवेंद्र कुमार सिंह ने किया। इस मौके पर सिंजेंटा द्वारा देवेंद्र कुमार सिंह ,बबलू सिंह, कृषि वैज्ञानिक विनय कुमार सिंह, डी. आनंद ,संगीत आनंद ,गायिका भारती कुमारी, परशुराम त्रिवेदी, मुनीलाल दास ,विनय कुमार कुशवाहा, प्रदीप कुमार सिंह, निर्भय कुमार ,केदारनाथ सहित सभी मीडिया कर्मी अंगवस्त्रम से सम्मानित किए गए। संगीत आनंद ने जय जवान जय किसान गीत गाकर कार्यक्रम को विराम दिया।