Home न्यूज किसानों का प्रदर्शन तीसरे दिन भी जारी, सिंधु बाॅर्डर से नहीं हटने...

किसानों का प्रदर्शन तीसरे दिन भी जारी, सिंधु बाॅर्डर से नहीं हटने का फैसला, गृह मंत्री बोले-शांतिपूर्ण तरीके से हो प्रदर्शन ता 3 दिसंबर से पहले भी हो सकती बात

नेशनल डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
केंद्र सरकार द्वारा पारित नए कृषि कानूनों के विरोध में किसानों का प्रदर्शन तीसरे दिन भी जारी है। विरोध प्रदर्शन के लिए एक स्थान निर्धारित होने के बावजूद किसानों ने शुक्रवार की रात हरियाणा की सिंघु बॉर्डर पर गुजारी। अब शनिवार को किसानों ने एक बार फिर बैठक की, जिसमें उन्होंने आगे की रणनीति पर मंथन किया। इसके बाद किसानों ने सिंघु बॉर्डर से नहीं हटने का फैसला लिया है। पुलिस लगातार किसान नेताओं के संपर्क में है और उन्हें समझाने का प्रयास कर रही है।

शांतिपूर्ण तरीके से करेंगे प्रदर्शन तो तीन दिसंबर से पहले भी कर सकते हैं बातः अमित शाह
केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने कहा है कि भारत सरकार किसानों से बात करने के लिए तैयार है लेकिन इसके लिए शर्त ये है कि किसान शांतिपूर्ण ढंग से बुराड़ी में प्रदर्शन करें। उनका कहना है कि जिस दिन आप बुराड़ी के निरंकारी समागम ग्राउंड में शिफ्ट होंगे उसके अगले ही दिन सरकार आपसे बात करेगी।

राकेश टिकैत ने किसानों से किया आह्वान- लड़ाई लंबी चलेगी बड़ी संख्या में पहुंचें किसान
भाकियू के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने किसानों से आह्वान किया है कि लड़ाई अब लंबी चलेगी। उन्होंने कहा कि लड़ाई लंबी चलेगी तो अब संख्या बढ़ाने की जरूरत है, इसलिए कल से सभी किसान ट्रैक्टर-ट्रॉली के साथ यहां पहुंचें।

बुराड़ी पर जमा किसान नहीं छोड़ेंगे दिल्ली
दिल्ली के बुराड़ी के निरंकारी समागम ग्राउंड में भी सैकड़ों किसान प्रदर्शन कर रहे हैं। वहां प्रदर्शन कर रहे किसानों का कहना है कि हम सरकार पर भरोसा नहीं करते, हमारी पहले भी बात हुई थी लेकिन कोई हल नहीं निकला। हम चाहते हैं कि सरकार ये कानून वापस ले।

दिल्ली पुलिस ने प्रदर्शनकारियों से जिम्मेदाराना रवैया अपनाने की अपील की
बाहरी उत्तरी जिला के डीसीपी गौरव शर्मा ने बताया कि प्रदर्शनकारियों को शांतिपूर्ण प्रदर्शन की इजाजत पहले ही दे दी गई है। दिल्ली पुलिस पूरी तरह से तैयार है बुराड़ी में प्रदर्शन की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए। हम प्रदर्शनकारियों से जिम्मेदाराना रवैया अपनाने की गुजारिश करते हैं।

 

Previous articleडीएम के निर्देशानुसार सभी प्रखंडों में चल रही योजनाओं का अधिकारियों की टीम ने की समीक्षा
Next articleपीएम मोदी के दौरे के बाद सीरम इंस्टीच्यूट के प्रमुख अदार पूनावाला ने वैक्सिन को लेकर दी यह अहम जानकारी, पढ़े पूरी खबर