Home क्राइम कोरोना का कहरः दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते अगले...

कोरोना का कहरः दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते अगले आदेश तक सभी क्लासेज बंद, जेएनयू में 24 छात्र पोजिटिव

नेशनल डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
तेजी से बढ़ते कोरोना के मामलों को देखते हुए राजधानी दिल्ली के सभी स्कूलों को अगले आदेश तक बंद कर दिया गया है। दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि, कोविड के बढ़ते मामलों के कारण, दिल्ली में सभी स्कूल (सरकारी, प्राइवेट सहित), सभी क्लासेज के लिए अगले आदेश तक बंद किए जा रहे हैं।
गौरतलब है कि दिल्ली के एक रिहायशी स्कूल में बीते दिनों प्रिंसिपल समेत कुछ छात्राएं कोरोना संक्रमित पाई गई थीं। इसके साथ ही आज जेएनयू में 24 छात्र पॉजिटिव पाए गए हैं। सिर्फ स्कूलों में ही नहीं दिल्ली के अस्पतालों के स्टाफ भी कोरोना की इस लहर की चपेट में तेजी से आ रहे हैं जिसके चलते सरकार ने यह फैसला लिया है कि स्कूल अगले आदेश तक बंद कर दिए जाएं।
कोविड के बढ़ते मामलों के कारण, दिल्ली में सभी स्कूल (सरकारी, प्राइवेट सहित), सभी क्लासेज के लिए अगले आदेश तक बंद किए जा रहे हैं।

राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल कोविड विशेष घोषित
राजधानी में कोरोना के तेजी से बढ़ते संक्रमण को देखते हुए दिल्ली सरकार के राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल को दोबारा कोविड विशेष घोषित कर दिया गया है। अब इस अस्पताल में सिर्फ कोरोना के मरीजों का ही इलाज किया जाएगा। इस बाबत अस्पताल के चिकित्सा निदेशक ने आदेश जारी कर दिया है। इससे पहले पिछले साल अप्रैल में भी अस्पताल को कोविड विशेष घोषित किया गया था। तब करीब 9 महीने तक यहां कोरोना की ही मरीजों का इलाज हुआ था।

अस्पताल के चिकित्सा निदेशक डॉक्टर बीएल शेरवाल ने बताया की अस्पताल में अगले आदेश तक सभी गैर कोविड-19 सेवाओं को निलंबित कर दिया गया है। संक्रमण के मामले बढ़ने के मद्देनजर बुधवार देर रात यह फैसला लिया गया है। उन्होंने बताया कि अभी तक अस्पताल में कोरोना के  200 मरीज भर्ती हैं। सभी  मरीजों की हालत गंभीर है। इलाज के दौरान उन्हीं प्रोटोकॉल का पालन किया जा रहा है जो पिछले साल किया गया था। डॉक्टर के मुताबिक, संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं।  मार्च के पहले सप्ताह में उनके अस्पताल में एक भी मरीज भर्ती नहीं था, लेकिन अब एक माह में ही 200 रोगी भर्ती हुए हैं। शेरवाल ने बताया कि अस्पताल में टीकाकरण अभियान के लिए तैनात एक नर्स और एक पुलिसकर्मी भी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं और वे घर में आइसोलेशन में हैं। उन्होंने कहा कि अस्पताल में बेड की संख्या लगातार बढ़ाई जा रही है।