Home न्यूज राहतः केन्द्र सरकार ने डीएल, आरसी समेत मोटर व्हीकल से जुड़े सभी...

राहतः केन्द्र सरकार ने डीएल, आरसी समेत मोटर व्हीकल से जुड़े सभी दस्तावेजों की वैधता बढ़ाकर 31 मार्च की

नेशनल डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
कोरोना काल के दौरान वाहन मालिकों को हो रही परेशान के मद्देनजर केन्द्र सरकार ने राहतकारी कदम उठाये हैंै। इस कड़ी में ड्राइविंग लाइसेंस, वाहन पंजीकरण और फिटनेस प्रमाणपत्र जैसे महत्वपूर्ण दस्तावेजों की वैधता को बढ़ाकर 31 मार्च, 2021 तक कर दिया है। इस फैसले से उन लोगों को राहत मिलेगी, जिनके इन दस्तावेजों की मियाद एक फरवरी, 2020 को समाप्त हो गई थी, लेकिन महामारी के कारण नवीनीकरण आदि की आवश्यक कार्रवाई नहीं कर सके थे।

 

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने कोरोना महामारी के कारण चैथी बार यह वैधता बढ़ाई है। इससे पहले अगस्त में सरकार ने वैधता बढ़ाकर 31 दिसंबर 2020 की थी। मंत्रालय ने रविवार को कहा, इस फैसले से नागरिकों को सुरक्षित शारीरिक दूरी बनाए रखते हुए परिवहन से संबंधित सेवाओं का लाभ उठाने में मदद मिलेगी।

दरअसल, कोरोना महामारी के दौरान आम लोगों को राहत प्रदान करते हुए सरकार ने अगस्त में मोटर व्हीकल से जुड़े सभी दस्तावेजों की वैधता बढ़ाकर 31 दिसंबर, 2020 कर दी थी। इसके तहत फिटनेस प्रमाणपत्र, ड्राइविंग लाइसेंस, वाहन पंजीकरण (आरसी) समेत प्रमुख दस्तावेज शामिल हैं।
केंद्र सरकार ने सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को तत्काल प्रभाव से इन नियमों को लागू करने के निर्देश दिए हैं ताकि किसी भी वाहन चालक का परेशान न किया जाए। केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने कहा कि इस तरह के दस्तावेजों को 31 मार्च 2021 तक वैध मानने के लिए प्रवर्तन अधिकारियों को सलाह दी गई है।
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, कमर्शियल वाहन मालिकों ने सरकार से कुछ रियायत देने की मांग की थी। उनका कहना था कि सरकार ऐसे वाहनों के लिए थोड़ी राहत प्रदान करे, जो व्यावहारिक समस्या के चलते अभी सड़क पर नहीं उतर रहे हैं। इनमें स्कूल बस ऑपरेटर भी शामिल हैं।

Previous articleमोतिहारी के 32 केन्द्रों पर संपन्न हुई बीपीएससी 66वी0 संयुक्त (प्रा०) प्रतियोगिता परीक्षा, डीएम ने शहर के केन्द्रों का लिया जायजा
Next articleन्यूज ब्रीफः बेखौफ बदमाशों ने हथियार के बल पर राहगीर की बाइक लूटी, पीपरा में सड़क हादसे में महिला की मौत