Home न्यूज बिहार विस चुनाव रिजल्टः पल-पल बदल रही सत्ता की तस्वीर, कभी एनडीए...

बिहार विस चुनाव रिजल्टः पल-पल बदल रही सत्ता की तस्वीर, कभी एनडीए तो कभी राजद गठबंधन हो रहा आगे, 3 करोड़ से ज्यादा वोटों की गिनती पूरी

बिहार डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
बिहार विधानसभा चुनाव की मतगणना में पल-पल रोमांच देखने को मिल रहा है। कभी राजद गठबंधन आगे तो कभी राजग। बारी-बारी से सभी जश्न मना रहे तो फिर सन्नाटा खीचने लग रहा है। सुबह जहां महागठबंधन की बढ़त थी वहीं 10 बजते-बजते रुझान एनडीए के पक्ष में आने लगे। एनडीए और महागठबंधन के बीच बढ़त का फासला बढ़ा तो भाजपा और जद यू के दफ्तरों का सन्‍नाटा खत्‍म हुआ और जश्‍न मनना शुरू हो गया। लेकिन शाम होते-होते यह फासला घटा और एक बार फिर राजद दफ्तर और तेजस्‍वी के घर की रौनक बढ़ गई। असमंजस की यह स्थिति लगातार बनी हुई है। एनडीए और महागठबंधन के बीच बढ़त में छह-सात सीटों का फासला कभी घट तो कभी बढ़ रहा। बिहार में सरकार कौन बनाएगा यह तस्‍वीर अभी तक साफ नहीं हो पा रही है लेकिन सरकार बनाने की उम्‍मीद के साथ कभी यहां तो कभी वहां जश्‍न मनने का सिलसिला लगातार जारी है। ताजा रूझान के अनुसार एनडीए 120 व राजद गठबंधन 116 सीट पर जीत या बढ़त बनाए हैं। तस्वीर तेजी से बदल रही है।

3 करोड़ से ज्यादा वोटों की गिनती पूरी

चुनाव आयोग के मुताबिक शाम साढ़े 6 बजे तक 3 करोड़ से ज्यादा वोटों की गिनती हो चुकी है। अभी देर रात तक गिनती चलेगी। शाम साढ़े 6 बजे तक एनडीए 123 सीट पर तो महागठबंधन 112 पर आगे चली रही है। रुझानों के अनुसार, बिहार में एनडीए की सरकार बनती दिख रही है। भारतीय जनता पार्टी बिहार में सीटों के हिसाब से सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभर रही है और 73 से अधिक सीटों पर आगे चल रही है. जबकि राजद दूसरे नंबर की पार्टी बनकर उभरी है, राजद अभी 70 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है। महागठबंधन में कांग्रेस 20 सीटों पर आगे है, जबकि एनडीए में जदयू 50 सीटों के आसपास बढ़त बनाए हुए है।

देर रात तक आएंगे नतीजे चुनाव आयोग
चुनाव आयोग के मुताबिक, इस बार बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजे देर रात तक आएंगे। कोरोना संकट काल में कई सावधानियों के साथ वोटों की गिनती हो रही है, साथ ही काउंटिंग बूथ की संख्या भी करीब 50 फीसदी तक बढ़ी है. कई सीटें ऐसी हैं, जहां पर इस बार 19 से 51 राउंड तक वोटों की गिनती होनी है. दोपहर ढाई बजे तक करीब 1.34 करोड़ वोट गिने गए, वहीं शाम छह बजे तक तीन करोड़ से ज्यादा की गिनती हो गई थी।

Previous articleमुजफ्फरपुर में ड्यूक हॉस्टल के छात्र की गोली मारकर हत्या, विपक्षी गुट पर हत्या का शक
Next articleचंपारण की 21 विधान सभा सीटों में से 17 पर एनडीए ने लहराया जीत का परचम, भाजपा बड़ी खिलाड़ी साबित