Home न्यूज दिल्ली में बिहार चुनाव जीत के बाद बोले पीएम मोदीे, जीत का...

दिल्ली में बिहार चुनाव जीत के बाद बोले पीएम मोदीे, जीत का उन्माद नहीं, हार का अवसाद नहीं

नेशनल डेस्क। यूथ मुकाम न्यूज नेटवर्क
कोरोना वायरस महामारी के बीच हुए बिहार विधानसभा चुनाव और विभिन्न राज्यों में हुए उपचुनावों में भारतीय जनता पार्टी ने शानदार सफलता हासिल की है। इन सफलताओं का जश्न मनाने के लिए बुधवार की शाम भाजपा मुख्यालय में एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह आदि नेता पार्टी मुख्यालय पहुंच चुके हैं। प्रधानमंत्री मोदी ने कार्यकर्ताओं से कहा कि बिहार में हुए विधानसभा चुनाव और विभिन्न राज्यों में हुए उपचुनावों के परिणाम ने बता दिया है कि मेहनत करेंगे तो जनता आशीर्वाद देगी। उन्होंने परिवारवादी पार्टियों को लोकतंत्र के लिए सबसे बड़ा खतरा बताते हुए कहा कि देश की जनता का भाजपा पर विश्वास बढ़ता जा रहा है। देश की नारी शक्ति को पीएम ने भाजपा का साइलेंट वोटर बताया। साथ ही बिहार में नीतीश के नेतृत्व पर भी उन्होंने मुहर लगाई।

‘वोकल फॉर लोकल’ का मंत्र दिया
दिवाली की बधाई देते हुए प्रधानमंत्री ने कोरोना से सतर्क रहने की सलाह दी और कहा कि अपना ध्यान रखिए, अपनों का भी ध्यान रखिए। एक बार फिर श्वोकल फॉर लोकलश् का मंत्र देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि दिवाली के साथ आने वाले हर त्योहार में, हर मौके पर हमें इसी का पालन करना है। इसी के साथ श्भारत माता की जयश् के नारे लगाते हुए उन्होंने अपना संबोधन समाप्त किया।

लोकतंत्र में हिंसा का स्थान नहीं
बंगाल और केरल में भाजपा कार्यकर्ताओं पर हमले की घटनाओं को लेकर पीएम ने कहा कि जो लोग हमें सीधे चुनौती नहीं दे पा रहे हैं वो हमारे कार्यकर्ताओं के साथ हिंसा रहे हैं, उनकी हत्या कर रहे हैं। लेकिन लोकतंत्र में हिंसा का स्थान नहीं है, कार्यकर्ताओं को मारना ठीक नहीं है, मौत का खेल खेलकर कोई मत नहीं पा सकता है। उन्होंने कहा कि हमारे इरादों, प्रयासों पर कोई सवाल नहीं उठा सकता है। मैं जनता के सपनों को पूरा करने में कोई कमी नहीं रहने दूंगा। मैं देश के सभी मतदाताओं को और भाजपा को धन्यवाद देता हूं।

जीत का उन्माद नहीं, हार का अवसाद नहीं- मोदी
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भाजपा की विचारधारा है कि श्जीत का उन्माद नहीं, हार का अवसाद नहींश्। इसी मंत्र के साथ हम आगे बढ़ रहे हैं। राष्ट्र निर्माण का, आत्मनिर्भर भारत के विकास का काम अनवरत जारी है। हमारे लिए अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति का विकास ही लक्ष्य और जिम्मेदारी है।

परिवारवादी पार्टियां लोकतंत्र के लिए सबसे बड़ा खतरा
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि परिवार की पार्टियां या परिवारवादी पार्टियां लोकतंत्र के लिए सबसे बड़ा खतरा है। दुर्भाग्य से अनेक दशकों तक देश का नेतृत्व करने वाली एक पार्टी भी केवल परिवार की पार्टी बन कर रह गई। ऐसे में भाजपा का दायित्व और बढ़ जाता है। हमें अपनी पार्टी में जीवंत लोकतंत्र कायम रखना है और उदाहरण बनाना है।

21वीं सदी का भारत नए मिजाज का भारत: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा, 21वीं सदी का भारत नए मिजाज का भारत है। न हमें आपदाएं रोक सकती हैं न ही बड़ी-बड़ी चुनौतियां। यह एक ऐसा भारत है जो आत्मविश्वास से भरा है, अपना सामर्थ्य पहचानता है। जो अपने लक्ष्यों के प्रति सचेत भी है, गंभीर भी है। कोरोना काल में जब दुनिया के अनेक देश थम गए, हमारे देश ने नई नीतियां भी बनाईं, नए निर्णय भी लिए। कृषि और श्रम में ऐतिहासिक सुधार हुए, वो भी कोरोना काल में, नई शिक्षा नीति लाई गई, वो भी कोरोना काल में। हजारों मुश्किलों के बाद भी हम भारत के लोग देश के लिए जी-जान से जुटे रहे। हम आत्मनिर्भर भारत का संकल्प भी पूरा करके रहेंगे।

भाजपा के पास सायलेंट वोटर का विशेष वर्ग: मोदी
प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि भाजपा के पास साइलेंट वोटर का ऐसा वर्ग है जो उसे बार बार वोट दे रहा है, निरंतर वोट दे रहा है। ये साइलेंट वोट देश की माताओं बहनों के हैं, नारी शक्ति के हैं। ग्रामीण इलाकों से शहरों तक महिला वोटर ही भाजपा के साइलेंट वोटर का सबसे बड़ा समूह बन गया है। ये भाजपाई हैं, जिसके शासन में महिलाओं को सम्मान भी मिलता है और सुरक्षा भी मिलती है। उन्होंने कहा कि भाजपा की सफलता के पीछे उसका गवर्नेंस मॉडल है। जब लोग गवर्नेंस के बारे में सोचते हैं, तो भाजपा के बारे में सोचते हैं। भाजपा सरकारों की पहचान ही गुड गवर्नेंस है।

जीत का एक ही मंत्र श्सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वासश् : मोदी
बिहार चुनाव परिणाम को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि में जैसे बिहार की जनता जनादेश दिया है, मेरा जवाब भी उतना ही साफ है। मेरा जवाब है चुनाव जीतने का एक ही रहस्य है- सबका साथ सबका विकास, सबका विश्वास। उन्होंने कहा कि यह बिहार के गौरव की जीत है, बिहार की क्षमताओं की जीत है।

इन चुनावों ने दुनिया को दिखाई भारत की ताकत
प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना के इस संकट काल में ये चुनाव कराना आसान नहीं था। लेकिन हमारी लोकतांत्रिक व्यवस्थाएं इतनी सशक्त हैं, पारदर्शी हैं कि इस संकट के बीच भी उन्होंने इतना बड़ा चुनाव कराकर दुनिया को भी भारत की ताकत की पहचान करा दी है। मैं इसके लिए चुनाव आयोग को धन्यवाद देता हूं।

देश की जनता का भरोसा मेरी सबसे बड़ी पूंजी: मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि देश की जनता को सबसे ज्यादा भरोसा भारतीय जनता पार्टी पर है। हम देश के लोगों के हित का काम करते हैं। भाजपा देश के हर वर्ग की जरूरत समझती है। भाजपा दलितों और शोषितों की आवाज है। हम देश को आगे ले जाने वाला हर काम करेंगे। भाजपा पर जनता का भरोसा मेरे लिए, देश के प्रधान सेवक के लिए बहुत बड़ी पूंजी है।

Previous articleजीत से गदगद बिहार भाजपा अध्यक्ष ने सत्ता विरोधी लहर को नकारा, कहा- नीतीश कुमार ही बने रहेंगे सूबे के मुखिया
Next articleजीत के बाद बोले प्रमोद-यह जीत सत्य, अहिंसा के साथ मोतिहारी की शांतिप्रिय जनता की जीत